राजा योगेंद्र ने किया शिव मंदिर की प्रतिष्ठा बहाल, आगे भी धर्म नीति जारी रहेगी

January 30, 2018 5:43 PM0 commentsViews: 267
Share news

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर। जिले के शोहरतगढ़ राज राज परिवार के राजा योगेन्द्र प्रताप सिंह ने उपनगर स्थ्‍िात बानगंगा ब्रिज के पास उपेक्षित पड़े शिव मंदिर के जीर्णोंधार का संकल्प ले कर जो शुरूआत की थी, उसकी बाउंड्रीवाल पूरा होने पर मंदिर को भव्य बनाने का संकल्प लेकर धर्मपरायण जनों का दिल जीत लिया।

बानगंगा नदी के तट पर बने प्राचीन शिव मंदिर की उपेक्षा उनसे सही नही जा रही थी। हिंदू धर्मरक्षा के लिये सीएम यागी आदित्यनाथ के संगठन हिन्दू युवा वाहिनी से जुड़ने के बाद राजा योगेंन्द्र प्रताप सिंह उर्फ बाबा साहब ने उपेक्षित धर्म स्थलों के जीर्णोद्धार के लिये जो अभियान चलाया था, इस शिव मंदिर को भव्य रूप देना उनका अगला कदम है।

इस बारे में राज घराने के सदस्य कुंवर धर्नुधर सिंह ने बताया कि इस उपेक्षित मंदिर की शौर्य बहाली के लिये, उसके चारो तरफ बाउंड्री बनवा दी गयी है। इसके बाद मंदिर को भव्य रूप प्रदान किया जायेगा। इसमें किसी का आर्थिक सहयोग नही लिया जायेगा।

बतातें चले कि शोहरतगढ़ राज घराने के राजा योगेन्द्र प्रताप सिंह जिले के विभिन्न क्षेत्रों में उपेक्षित मंदिरों के बैभव बहाली के लिये निरन्तर काम कर रहें है। इस क्रम में उन्होंने गालापुर कठेला आदि कई मंदिरों का जीर्णोधार कर धर्म का मान बढ़ाया है। उन्होंने कहा है कि उनकी धर्मरक्षा की यह निति आगे भी जारी रहेगी।

 

 

 

 

 

Leave a Reply