exclucive- लालमोहर हत्याकांड में नामजद मुकदमा, गांव में पहुंचे आला अफसर, पुलिस बल तैनात

May 20, 2016 2:17 PM0 commentsViews: 915
Share news

–––प्रधानपति के  कटे सिर की तलाश में पुलिस ने चलाई कांबिग, जवान छान रहे तालाब पोखरे
–––मदनपुर में सालों से सुलग रही थी रंजिश की आग, दो दिन पहले बनी थी कत्ल की पृष्ठभूमि

नजीर मलिक

घटना स्थल का निरीक्षण करते पुलिस अफसर और रक्त को सूंघ रहा पुलिस का खोजी कुत्ता

घटना स्थल का निरीक्षण करते पुलिस अफसर और मृतक के ब्लड को सूंघ रहा पुलिस का खोजी कुत्ता

सिद्धार्थनगर। हत्यारों द्धारा प्रधानपति का सिर काट ले तने की घटना के बाद से उस्का ब्लाक के मदनपुर गांव में अभी भी सनसनी छायी हुई है। पुलिस प्रधानपति लालमोहर के कटे सिर की तलाश में है। गांव में तनाव के मद्देनजर पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है। वरिष्ठ आफिसर भी मौके पर पहुंचे हुए हैं। लाल मोहर इलाके के चर्चित व्यक्तियों में शुमार था। इस मामले में 6 के खिला मुकदमा कायम हो गया है। हत्यारे फरार हैं।

आज सुबह मदनपुर में लाल मोहर की हत्या के बाद पुलिस में एक नामजद सहित पांच अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। तहरीर के मुताबिक गांव के रमाकांत यादव ने अपने साथियों के साथ लाल मोहर का गला काटा। मृतक के भाई राम समुझ के मुताबिक भाई की चीख पर जब वह गांव के बाहर गया तो उसने रमाकांत यादव व अन्य कई लोगों को कटे हुए सिर के साथ भागते देखा।

कटे सिर की खोज के लिए काबिंग

खबर मिली है कि आज सुबह पांच बजे लालमोहर की हत्या के बाद हत्यारे उसका कटा सिर भी साथ ले गए हैं। पुलिस उसके सिर रि तलाश में जुट गई है। इसके लिए उसने बाकायदा कांबिंग शुरु कर दी है। वह ताल पोखरे और बाग बगीचों में कटे सिर की तलाश में लगी हुई है।

डाग स्क्वाड भी पहुंचा
घटना की सुरागरशी के लिए पुलिस ने डाग स्थ्वायड की भी मदद ली है। खेजी कुत्ते को मौके पर ले जाया गया हैं, जहां से वह ांच के बाद अभी तक आगे बढ़ने में विफल है। कुत्ता घटनास्थल से कुछ दूर आगे जाने के बाद कोई संकेत नहीं दे पा रहा है।

क्या है दुश्मनी की वजह

घटना के सिलसिले पुलिस और वादी पक्ष दोनों ही ग्राम प्रधानी का चुनाव बता रहे हैं। लेकिन उस गांव में दो पार्टी का झगड़ा सालों से चला आ रहा है। कई बार दोनों पक्षों में संघर्ष भी हो चुका है।

हालांकि क हत्या का कारणों में से प्रधानी का चुनाव तो है, लेकिन हाल में एक मुकदमे में विपक्ष के खिलाफ मृतक की गवाही के प्रकरण ने दो दिन पहले हत्या की पृष्टभमि तैयार करने में भूमिका अदा की।

गांव में तनाव, पुलिस तैनात

इस घटना के बाद गांव में दोनो पक्षों के बीच तनाव बढ़ गया है। हालात को देखते हुए मदनपुर में भारी पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है। अपर पुलिस अधीक्षक मंशाराम गौतम ने हत्या को चुनावी रंजिश बताया है और जल्द ही मृतक का कटा सिर बरामद करने के साथ फरार हत्यारे को गिरफ्तार करने की संभावना व्यक्त की है।

Leave a Reply