विधायक ने अंधेरे की गुलामी से दिलाई मुक्ति, लक्षमीनगर को मिला लक्ष्मी स्वरूपा बिजली का तोहफा

May 14, 2017 2:51 pm0 commentsViews: 518
Share news

एम. आरिफ

light

इटवा, सिद्धार्थनगर। जिला मुख्यालय से लगभग 50 किलोमीटर दूर इटवा विधानसभा के विकास खन्ड खुनियांव अन्तर्गत ग्राम खुनियांव कि राजस्व ग्राम लक्ष्मीनगर आजादी के 70 साल से अंधेरा ही अंधेरा था। आजादी के 70 साल बाद भी यहा हालात मानों ऐसे थे कि यहां रहने वाले सभी परिवार अंधेरे की गुलामी में बसर कर रहे हों। कोई उनकी समस्याओं की सुधि नहीं ले रहा था।

लक्ष्मीनगर गांव में बिजली के तार खिंचने के बाद कल सांय जब क्षेत्रीय विधायक ने गांव के टांसफार्मर की फीता काट कर उद्घाटन किया तो मौके पर मौजूद माहौल तालियों से गुंज उठा। गांव के बसंत कुमार का कहना है कि आजादी के बाद भी यह गांव अंधेरे की गुलामी कर रहा था, जिससे अब जाकर मुक्ति मिली है। पहले के  सारे राजनीतिज्ञ झूठे साबित हुए हैं।

गांव वाले क्षेत्रीय भाजपा विधायक डा सतीश द्धिवेदी की प्रशांसा कर उनके वादा निभाने पर उन्हें कोटिशः धन्यवाद दे रहे हैं। दरअसल यहां से चना जीतने वाले मुहम्मद मुकीम, स्वयंबर चौधरी, विश्वनाथ पांडेय आदि ने चुनाव के दौरान इस गांव के विद्युतीकरण का वादा किया था। माता प्रसाद पांडेय इस क्षेत्र से चुन कर विधानसभा अध्यक्ष भी बने। मगर लक्ष्मी नगर में बिजली रूपी लक्ष्मी न आ सकीं।

बीते चुनाव में भाजपा से एक नौजवान शिक्षाविद् डा. सतीश द्धिवेदी को टिकट मिला। उन्होंने चुनाव के दौरान ग्रामवासियों से जीतने के बाद बिजली देने का वादा किया और चुनाव जीतने के बाद ही इसका प्रयास शुरू भी कर दिया। जिसकर नतीजा है कि आज लक्ष्मीनगर गांव को अंधरे की गुलाम से मुक्ति मिली। गांव वालों की तरफ से धन्यवाद विधायक जी।

(2)

Leave a Reply


error: Content is protected !!