कन्नौज में लेखपालों पर हमले के विरोध में लेखपाल संघ का धरना, सूत्रीय ज्ञापन सौंपा

September 27, 2019 1:27 PM0 commentsViews: 240
Share news

निजाम अंसारी

शोहरतगढ़ तहसील परिसर में जनपद कन्नौज में अधिवक्ताओं द्वारा लेखपालों पर जानलेवा हमला व महिला लेखपाल से दुर्व्यवहार करने वाले दोषी अधिवक्ताओं पर कार्यवाही किए जाने को लेकर लेखपालों ने एक दिवसीय धरना देकर नायब तहसीलदार अवधेश राय को ज्ञापन सौंपा।

धरने को संबोधित करते हुए तहसील अध्यक्ष नजमुल हसन  ने कहा कि कनौज जिले में जिलाधिकारी कन्नौज व पुलिस की लापरवाही के कारण लेखपालों के साथ की गई मारपीट व अभद्रता करने वालों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर लेखपालों द्वारा पूर्व सूचना के अनुसार जिला कलेक्ट्रेट कार्यालय पर शांतिपूर्ण धरना दिया जा रहा है। सुरक्षा की मांग के बावजूद भी जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक द्वारा सुरक्षा व्यवस्था नहीं कराए जाने के कारण बीते 24 सितम्बर को सैकड़ों संख्या में वकीलों द्वारा धरना स्थल पर बैठे लेखपालों पर हमला कर दिया। इस प्रकरण में लेखपालों को गंभीर चोटें आईं और महिला लेखपालों के साथ भी मारपीट एवं अभद्रता की गई , जिससे जनपद कन्नौज के लेखपालों के साथ-साथ अन्य कर्मचारियों में भी भय व्याप्त है।

उन्होने कहा कि ड्यूटी पर स्वयं को सुरक्षित महसूस नहीं कर रहा है।अधिवक्ताओं के आतंक एवं जिलाधिकारी व पुलिस प्रशासन के खिलाफ उत्तर प्रदेश लेखपाल संघ प्रदेश के समस्त तहसीलों में तब तक संपूर्ण कार्य बहिष्कार करते हुए धरना प्रदर्शन आंदोलन को बाध्य, इसके अलावा दोषी अधिवक्ताओं का   लाइसेंस निरस्त करने, अधिवक्ताओं द्वारा लेखपालों के विरुद्ध दर्ज कराई गई झूठी एफआईआर को निरस्त करने, व कन्नौज  के डीएम एसपी पर कार्यवाही ने की मांग की।

अंत में लेखपाल संघ ने पांच सूत्रीय मांग ज्ञापन नायब तहसीलदार अवधेश राय को सौंपकर सभी मांगों को शीघ्र पूरी कराये जाने की मांग भी की। इस दौरान उपमंत्री सदाकांत शुक्ला,रमेश कुमार, धर्मेंद्र यादव , सुरेंद्र यादव , जायसवाल,सुनील कुमार श्रीवास्तव, उमेश चंद वर्मा,रामकुमार तिवारी,सुनील सिंह,संतोष,बबिता ठाकुर, आयुषी यादव,रेणु चौहान,संध्या पांडेय, श्रीराम चौरसिया,दिवाकर,मोहित सिंह,रवि प्रकाश आदि लेखपाल मौजूद रहे।

 

 

Leave a Reply