नाटक के माध्मम से चलाया गया कुष्ठ रोग निरोधक जागरूकता अभियान

January 4, 2017 4:11 pm0 commentsViews: 471
Share news

अजीत सिंह

kushth

सिद्धार्थनगर। राष्ट्रीय कुष्ठ रोग उन्मूलन कार्यक्रम के अंतर्गत ‘नवोन्मेष’ द्वारा कुष्ठ रोग के लक्षण एवं उपचार हेतु लोगों को जागरूक करने के लिए जनपद के विभिन्न विकास खण्डों में नुक्कड़ नाटक का आयोजन किया जा रहा है। कुष्ठ रोग को लेकर हमारे समाज में आज भी तमाम तरीके के भ्रम फैले हुए हैं।

 उक्त जागरूकता कार्यक्रम (नाटक) के माध्यम से नवोन्मेष के अगुआ विजत सिंह एंड टीम द्धारा लोगों को बताया जा रहा है कि कुष्ठ रोग का इलाज पूर्ण रूप से संभव है एवं राष्ट्रीय कुष्ठ रोग उन्मूलन कार्यक्रम के अंतर्गत इसका इलाज पूर्णतः निःशुल्क है। हाथों पर हल्के रंग का चकत्ता पड़ना, उन चकत्तों का सुन्न होना, उस पर पसीना एवं खुजली न होना इस रोग के प्रमुख लक्षण हैं।

उन्होंने बताया कि अगर समय से दवा ली जाए तो उपचार की पहली खुराक से ही 90% कीटाणु समाप्त हो जाते हैं। कुष्ठ रोग से विकलांग हो रहे लोगों को जीवन यापन के लिए मासिक पेंशन का भी प्राविधान है।
नाटक का लेखन एवं निर्देशन विजित सिंह द्वारा किया गया है। मुख्य पात्र के रूप में रंगकर्मी मुनीश ज्ञानी, नूर मोहम्मद, राजेंद्र प्रसाद, राजीव शर्मा, भक्तराज आदि अपने प्रभावशाली अभिनय से लोगों को संवेदित एवं जागरूक करने का सशक्त प्रयत्न कर रहे हैं।

Leave a Reply