लीलाधर दे रहा था गांव में पहरा और चोर खंगाल रहे थे उसका घर

January 21, 2016 11:45 am0 commentsViews: 577
Share news

नजीर मलिक

jago

सिद्धार्थनगर। जिले में चारों के हौसले किस कदर बुलंद हैं, इसे इटवा थाने में हुई दो चोरियों से समझा जा सकता है। थो के ग्राम सड़वा का लीलाधर अपने गांव में पहरे पर था, दूसरी तरफ चोरों ने उसके घर में घस कर 50 हजार का माल उड़़ा लिया। इस वारदात ने पुलिस के इकबाल पर एक बार फिर सवाल उठा दिया है।

घटना के बारे में बताया जाता है कि चोरों के आतंक के चलते अन्य गांवों की तरह सड़वा गांव में भी रात में पहरा होता है। हर रात के पहरे के लिए गांव में क्रमवार अलग अलग टीमे पहरा देती हैं। बीती रात पहरा देने वाली टीम में गांव का रमाशंकर उर्फ लीलाधर भी शामिल था।

ग्रामीणों के मुताबिक रात 11 बजे लीलाधर गांव में पहरे पर निकला। तत्पश्चात उसकी पत्नी बच्चों के साथ घर के एक कमरे में जाकर सो गई। आधी रात के बाद चोर उसके घर में घुस गये।

चोरों ने घर में रखे संदूक व सूटकेस का ताला तोड़ा उसमें रखे पांच हजार नकद और सोने का झुमका, कील, चांदी का तौक छंदी आदि लेकर चलते बने। घटना की जानकारी लीलाधर को पहरा समाप्त होने पर घर पहुंचने पर हुई।

दूसरी घटना भी इस थाना क्षेत्र के ग्राम दर्शनियां में हुई। यहां भी गांव में पहरा चल रहा था। इस दौरान चोर रामधनी के घर में घुसे, मगर परिजनों के जग जाने के कारण चोरों को भागना पड़ा।

(2)

Leave a Reply


error: Content is protected !!