‘सारी दीदी! मेरा आई लव यू वाला मैसेज गलती से चला गया था’

August 4, 2020 1:20 pm1 commentViews: 2015
Share news

विजय ने किस कारण से जान दी? देखें आत्महत्या का लाइव विडियो

नजीर मलिक

https://youtu.be/M6AqeYhqR48

सिद्धार्थनगर।  बाइस साल के विजय चौधरी को न जाने कौन सा दुख सता रहा था कि रविवार की सुबह वह मोहाना थाना क्षेत्र के हर्रेया जंगल में पहुंच गया। वहां उसने फसेबुक लइव कर विडियो आन किया फिर वह मौत के लिए अपने ही हथों से बनाए फँदे में झूल गया। वह थोड़ी देर तड़पा फिर शांत हो गया। जान देने का यह अनोखा फैसला था। मगर उसका दुख क्या था, यह समझ में नहीं आया, लेकिन मौत से पहले अलविदा दीदी व अलविदा म़ित्र जैसी बात कह कर इतना तो संकेत दे ही दिया है कि उसकी मौत का कारण जो भी हो, मगर कम से कम उस राज को उसके कुछ करीबी जरूर जानते हैं।

कपिलवस्तु कोवाली के पनिहवा गांव का रहने वाले विजय रविवार की सुबह साढ़े नौ बजे जब फंदा से लटक रहा था तो उसने अपना मोबाइल पेड़ पर बंध कर आन कर रखा था। इसलिए जब उसने फंदा गले में डाल कर लटका तो उसे कईयों ने देखा। उसी आधार पर परिजन भी मौके पर पहुचे, लेकिन तब तक विजय की सांस थम चुकी थी।

विडियों में विजय अंतिम क्षण तक मुस्कराता दिखा है, लेकिन उस मुस्कराहट में दर्द की अनोखी चाश्नी थी। वह सबसे अंत में दो नाम लेता है। पहला नाम उसकी मुंहबोली बहन का है। उससे माफी मांफी मांगते हुए प्रदीप कहता है ‘सारी दीदी! गलती से मेरा “आई लव यू” वाला मैसेज आपको चला गया था।‘ इससे लगता है कि उसके खुदकशी तक के सफर में प्रेम  के छींटे भी पड़ चुके थे। दूसरा नाम वह अपने दोस्त का लेता है और सिर्फ इतना कहता है- ‘प्रदीप मेरी जान! अगले जनम में फिर मिलेंगे।‘ इसके बाद वह फंदे में लटक जाता है।

हालांकि पुलिस विडियो देखने के बाद भी इसे आत्म हत्या का सामान्य मामला मान रही है। लेकिन अगर विडियों की मुंहबोली बहिन और दोस्त की तलाश कर  छानबीन शुरू की जाये तो मुमकिन है कि इस त्रिकोण कहानी का सनसनीखेज और चौथा कोण भी सामने आ जाये।

(1906)

Leave a Reply


error: Content is protected !!