गरीबों के मसीहा थे लोकबंधु राज नारायण-लालजी यादव     

November 24, 2021 11:25 am0 commentsViews: 37
Share news

 

 

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर, लोकबंधु स्व. राज नारायण जी भारत के एक राजनेता थे। जिन्होंने इंदिरा गांधी जी को रायबरेली लोकसभा सीट से हराया था। उन्हें लोकबंधु भी कहा जाता है। 80 बार जेल भी गये थे। उनसे इंदिरा गांधी जी भी डरती थी। उनका जन्म बनारस के जमींदार परिवार में हुआ था। वह गरीबों के सच्चे मसीहा थे। वे जनता में अत्यंत लोकप्रिय भी थे।  

यह बांते समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष व पूर्व विधायक लालजी यादव ने कहीं। वह मंगलवार को समाजवादी पार्टी के जिला कार्यालय पर लोकबंधु स्व. राज नारायण जी के 104वीं जयंती के अवसर पर आयोजित गोष्ठी को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भारतीय राजनीति में विपक्षी राजनीति जितने दिलचस्प प्रयोग समाजवादियों ने किए है। उतने अन्य किसी वैचारिक राजनीतिक जमात ने शायद किए हो, इस लिहाज से जो नाम कई नैतिक वजहों और नाटकीय प्रसंगों के कारण सबसे पहले ध्यान में आता है। वह है राज नारायण।

यादव ने कहा कि फक्कड़पने के साथ ही राज नारायण ने जीवन भर जिस तरह की राजनीति की वह संघर्ष और वैचारिक प्रतिबद्धता के लिहाज से बेमिसाल है। खासतौर पर देश में गैर कांग्रेसवाद की राजनीति का जब इतिहास लिखा जाएगा। तो उसमें इस समाजवादी नेता के हिस्से के कई प्रसंग आएंगे। वे डाक्टर राम मनोहर लोहिया जी के साथ सोशलिस्ट पार्टी के संस्थापकों में शामिल थे। बाद में वह चौधरी चरण सिंह के करीब आए और इस कारण एक दौर में उन्हें चौधरी साहब का हनुमान तक कहा गया था।

गोष्ठी को पूर्व विधायक विजय पासवान, जिला प्रवक्ता विजय यादव, जिला पंचायत सदस्य रमजान अली, राम सेवक लोधी, अब्दुल कलाम सिद्दीकी, विश्व भंर लाल श्रीवास्तव ने संबोधित किया। राकेश अग्रहरि, जय प्रकाश यादव, रोहित श्रीवास्तव, सोनू पासवान, चंचल रावत, सोटा बाबा, अनिल मांझी आदि मौजूद रहे। कार्यक्रम के पूर्व सभी ने स्व. राज नारायण जी के चित्र पर फूल माला चढ़ा कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित किया।

 

 

 

(32)

Leave a Reply


error: Content is protected !!