सपा नेता के मुंह में पिस्तौल घुसेड़ कर पीटती रही पुलिस, सपाई चुप, क्षत्रिय महासभा बिफरी

September 27, 2018 4:29 pm0 commentsViews: 2191
Share news

— अपराधियों की तरह पीटा, गया मुझे और मेरे पार्टी के नेता को मां बहन की गालियां दीं

— क्षत्रिय महासभा ने एसपी को दी चेतावनी, कार्रवाई न हुई तो बिगड़ सकता है सौहार्द्र

 

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। समाजवादी पार्टी सिद्धार्थनगर के नेता और पार्टी के जिला सचिव तेज प्राताप सिहं को लोटन कोतवाली की पुलिस ने दौड़ा दौड़ा कर पीटा यहां तक कि उनके मुंह में पिस्तौल की नाल डाल कर पीटते रहे। मामला केवल इतना था कि उन्होंने एक गरीब घायल को थाने में ले जाकर उसकी पैरवी की थी। लेकिन अश्चर्य है कि इस पुलिसिया अत्याचार के बाद भी सपा में खामोशी है। हां सपा नेता के जातीय संगठन क्षत्रिय महासभा जरूर इस मुद्दे को लेकर मैदान में आ गई है।

क्या था मामला?

बताया जाता है कि दो दिन पूर्व लोटन कोतवाली में एक मारपीट का मामला आया था। लोटन पुलिस ने उसे बिना रिपोर्ट लिखे ही वापस भेज दिया था। कोतवाली क्षे़त्र के निवासी और सपा जिला सचिव तेज प्रताप सिंह को जब इसकी जानकारी हुई वह पीड़ित को लेकर कोतवाली गये और कोतवाल अनिल शर्मा से मुकदमा लिखले को कहने लगे। उन्होंने मुकदमा न लिखे जाने पर धरना प्रदर्शन की बात कही।

छोटी सी बात पर आप खो बैठे कोतवाल

बताते है कि कोवाल अनिल शर्मा धरना प्रदर्शन करने जैसी छोटी सी बात कहने पर भड़क गये। उन्होंने सपानेता को गाली देना शुरू किया। तेजप्रताप के विरोध करने पर थाने के ड़ेढ़ दर्जन पुलिस कमिर्यों ने सपा नेता को थाने के प्रांगण में पीटना शुरू कर दिया। जेज प्रताप सिंह के अनुसार इसके बाद उन्हें एक कमरे में ले जाया गया और जमीन पर गिरा कर उनके मुह में पिस्तौल डाल दी गई और पुलिस वालों ने उन्हें जम कर पीटा। उन्होंने कहा कि अपने राजनीतिक जावन में पुलिस का ऐसा जंगली रूप कभी नहीं देखा।

सपा की चुप्पी पर हैरत

हैरत की बात है कि पार्टी का एक नेता जो सपा की स्थापना काल से ही उससे जुड़ा है तथा पार्टी का जिला सचिव है उस पर हुए इस पुलिसिया अत्याचार के बावजूद भी समाजवादियों की चुप्पी लोगों को अखर रही है। अभी तक समाजवादी पार्टी में इस पर कोई सुगबुगाहट तक नहीं है।आज सह जरूर खबर मिली है कि पार्टी के जिलाध्यक्ष कल उनसे मिलने आ रहे हैं, लेकिन सदर क्षेत्र के दर्जनों नेता अब तक खामोश हैं।

क्षत्रिय महासभा ने दिया एसपी को ज्ञापन

दूसरी तरफ अखिलभारतीय क्षत्रिय महासभा ने इस घटना को गंभीरता से लेकर लोटन पुलिस के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। महासभा के मंडल अध्यक्ष अखंड प्रताप सिंह जिला अध्यक्ष मधुसूदन सिंह उर्फ माधव सिंह के नेतृत्व में  एक प्रतिनिधिमंडल ने एसपी धर्मवीर सिंह से मुलाकात कर मामले की जांच की मांग करते हुए साफ कहा है कि तेज प्रताप सिंह जैसे सम्मानित व्यक्ति के साथ हुए अत्याचार से क्षत्रिय समाज की भावनाएं आहत हैं। अगर पइ घटना पर कार्रवाई न हुई तो सौर्हाद्र बिगड़ भी सकता है।

पुलिस पर इस्तगासा की तैयारी

दूसरी तरफ पता चला है कि सपा नेता तेज प्रताप सिंह आज न्यायलय पहूंच कर लोटन पुलिस के विरुद्ध इस्तगासा दाखिल करने की तैयारी कर रहे हैं। क्षत्रिय महासभा के युवां विंग के अध्यक्ष फतेहबहादुर सिंह ने कहा है कि एसपी द्धारा मामले की जांच के आदेश हैं। उसे देख कर हम संघर्ष की अगली रणनीति तय करेंगे।

 

(1991)

Leave a Reply


error: Content is protected !!