करोना काल की बेरोजगारीः 15 महिला समूहों ने मास्क, सेनेटाइजर बना कर कमाया चार लाख

September 10, 2020 12:55 pm0 commentsViews: 213
Share news

— समूह गठित कर एसआरएलएम की मदद से आर्थिक स्थिति मजबूत कर रहीं महिलाएं

शिव श्रीवास्तव

महराजगंज। कोरोना काल में रोजगार के अभाव में जहाँ परदेश से प्रवासी अपने वतन को लौट आए हैं, वहीं महिलाएं समूह गठित कर परिवार की आर्थिक स्थिति मजबूत करने में अपनी हिस्सेदारी व जिम्मेदारी निभा रही हैं। इस काल में जिले के 15 स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं ने कोरोना काल के पांच माह में मास्क और सेनेटाइजर बनाकर करीब चार लाख रूपये कमाया है। इस तरह से वह कोरोना पर वार संग अपना परिवार भी सवाँर रहीं हैं।

सदर ब्लाक की लखिमा थरूआ की जय माँ लक्ष्मी सहायता समूह तथा चौक बाजार की ज्ञान ज्योति स्वयं सहायता समूह जिले की 15 समूहों की नोडल समूह है। इन समूहों की अध्यक्ष अमरावती तथा कांति देवी ने बताया कि उनके समेत कुल 15 समूहों ने 01 अप्रैल से 31अगस्त तक( कोरोना काल के पांच माह) कुल 90 हजार मास्क तथा 350 लीटर सेनेटाइजर तैयार कर करीब चार लाख रूपये कमा लिया। यह भी बताया कि प्रति मास्क 4 रूपये तथा प्रति लीटर सेनेटाइजर 80 रूपये की कमाई हो जाती है।

 परियोजना निदेशक राजकरन पाल ने बताया कि उक्त समूहों के अलावा जनपद में राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन ( एसआरएलएम) के अंतर्गत करीब 4500 स्वयं सहायता समूह गठित हैं। जिससे जुड़ी महिलाएं आत्मनिर्भर बनने में जुटी हैं।

उन्होंने बताया कि प्रत्येक समूह को गठन के एक माह बाद 15 हजार रूपये बतौर रिवालंविंग फंड दिया जाता है। इसी खाते में समूह की महिलाएं भी थोड़ा थोड़ा बचत कर धन जमा करती रहती हैं। दूसरे महीने में एक लाख दस हजार रूपये बतौर कम्यूनिटी इनवेस्टमेंट फंड ( सीआईएफ) दिया जाता है। जबकि आवश्यक सामग्री जैसे बैठने के दरी, अभिलेख के कागज आदि के लिए डेढ़ हजार की स्टार्टअप धनराशि दी जाती है।

(207)

Leave a Reply


error: Content is protected !!