सुरक्षित मातृत्व अभियानः गर्भवती महिलाओं की जांच, अधिकांश एनीमिया की कमी से पीड़ित मिलीं

September 10, 2020 11:51 am0 commentsViews: 103
Share news

निज़ाम अंसारी

शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर। कस्बा स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर प्रत्येक माह की 9 तारीख को गर्भवती महिलाओं की होने वाली जांच में शोहरतगढ़ ब्लॉक क्षेत्र से लगभग 40 गर्भवती महिलाओं की प्रसव पूर्व जांच की गई। जिसमें महिलाओं का  पहले वजन तौला गया, उसके बाद स्टाफ नर्स मधु सुमीदा ने उनका प्रॉपर चेकअप किया चेकअप के बाद एक दर्जन से अधिक महिलाओं में एनीमिया और कैल्शियम की कमी पाई गई। शेष महिलाओं में पोषण युक्त आहार की कमी पाई गई, जिन्हें कैल्शियम, आयरन और मल्टीविटामिन की दवाइयां दी गईं ।

अस्पताल अधीक्षक डॉ पी के वर्मा ने इस दौरान रिपोर्टर को स्टेटिक बूथ पर ले जाया गया जहां कोविड की जांच प्रक्रिया तेजी में दिखी डॉ वर्मा के अनुसार पिछले एक सप्ताह के अंदर लगभग 3 19 लोगों की कोविड जांच की जा चुकी है।

उन्होंने अस्पताल पर उपलब्ध टेलीमेडिसिन सेन्टर को दिखाते हुवे बताया कि स्वास्थ्य केंद्र पर जिन विशेसज्ञ डॉक्टरों की कमी है जैसे हड्डी रोग , डरमोलॉजिस्ट या स्त्री रोग विशेसज्ञ की हमारे यहां कमी है उस कमी को पूरा करने के लिए टेली मेडिसिन सेन्टर की सहायता से मरीज को हमारे दूर बैठे विशेसज्ञ उनसे बात करके उन्हें चिकित्सीय सहायता उपलब्ध कराई जाती है।

अब तक लगभग 1509 मरीजों को इस सेन्टर से लाभ पहुँचा है।  बताते चलें कि प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के तहत मुख्यरूप से हाई रिस्क गर्भवती महिलाओं की पहचान , प्रबंधन और सुरक्षित एवम संस्थागत प्रसव हेतु बढ़ावा देना होता है इस दौरान अस्पताल अधीक्षक व एम ओ आई सी डॉ पी के वर्मा , गंगाधर दुबे ,

यूनिसेफ के मंडल स्तर के अधिकारी सुरेन्द्र शुक्ला , सिद्धार्थ नगर जिले के प्रमुख  मोहम्मद गुफरान , बी सी पी एम सुरेंद्र कुमार पाल, बी पी एम सतीश चंद्र श्रीवास्तव आदि उपस्थित रहे। कोरोना संक्रमण को देखते हुए लाभार्थियों की संख्या कम रही चेकिंग के दौरान सोशल डिस्टनसिंग रही।

(86)

Leave a Reply


error: Content is protected !!