बीस साल बाद करौंदा मसिना में शुरू हुई डिलेवरी प्वाइंट

December 8, 2022 7:51 PM0 commentsViews: 269
Share news

अजीत सिंह 

सिद्धार्थनगर। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जोगिया उदयपुर अंतर्गत एएनएम सेंटर (हेल्थ वेलनेस सेंटर में तब्दील) करौंदा मसिना में 20 वर्ष बाद डिलेवरी प्वाइंट शुरू हो गया है। बुधवार को सीएचओ के देखरेख में एएनएम के कुशल नेतृत्व में एक गर्भवती महिला का प्रसव कराया गया। इस मौके पर सीएचसी के अधीक्षक डॉ. आशीष कुमार अग्रहरि ने स्वास्थ्य कर्मियों के इस पहल की प्रशंसा की। भविष्य में इस क्षेत्र की गर्भवती महिलाओं को बेहतर सुविधा देने की अपेक्षा भी की।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जोगिया उदयपुर अंतर्गत एएनएम सेंटर करौंदा मसिना में 20 वर्ष पहले डिलेवरी प्वाइंट के रूप में सक्रिय था। इसके बाद से एएनएम की तैनाती नहीं और तैनाती भी हुई तो कोई रूचि न लेने से डिलेवरी प्वाइंट बंद हो गया था। इस एएनएम सेंटर को हेल्थ वेलनेस सेंटर के रूप में तब्दील करते हुए सीएचओ की तैनाती के साथ एएनएम की नियुक्ति की गई। बीते दिनों मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. बीके अग्रवाल ने निरीक्षण किया था।

उन्होंने अधीक्षक समेत स्वास्थ्य कर्मियों से डिलेवरी प्वाइंट शुरू करने का निर्देश दिया था। सीएमओ के आदेश का अनुपालन करते हुए बुधवार को सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी शारदा रावत के देखरेख में एएनएम रीतू मिश्रा ने करहना गांव निवासी मनीष की पत्नी रूपा का प्रसव कराया। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे सीएचसी के अधीक्षक डॉ. आशीष कुमार अग्रहरि ने स्वास्थ्य कर्मियों को बधाई दिया। डिलेवरी प्वाइंट शुरू कराने में युवा ग्राम प्रधान प्रभु यादव की भूमिका अहम रही। इस मौके पर आशा संगिनीअंजनी, आशा कार्यकर्ता रीता, सुशीला उपस्थित थी।

Leave a Reply