मतगणना की उल्टी गिनती शुरू, चर्चाओं में सपा पर दांव, अमर सिंह को मिले वोट करेंगे हार-जीत फैसला?

June 1, 2024 1:25 PM0 commentsViews: 856
Share news

 

 

नजीर मलिक

 सिद्धार्थनगर। लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण का  मतदान सम्पन्न हो जाने के  बाद अब मत गणना में मात्र दो दिन बाकी रह गये हैं। दूसरे शब्दों में मतगणना का काउंट डाउन शुरू हो चुका है।  घड़ी की सूइयों की टिक टिक के साथ सभी प्रमुख उम्मीदवारों के दिल की धड़कने भी तेज हो रही हैं। इस बीच लोकसभा क्षेत्र के हर चौराहों व रेस्टारेंटों में मतगणना का इंतजार कर रहे लोगों के बीच परिणाम को लेकर कयासबाजियों तेज होने लगी हैं।  पार्टियों के कई पदाधिकारियों  के साथ ही पक्ष और विपक्ष बन चुके आम लोगों में जीत हार की बाजियां लग रही है। कहीं पर छोटी मोटी तो कहीं पर बड़ी बड़ी शर्तें लगाई जा रही हैं। जबकि भाजपा और सपा नेताओं में अत्यधिक कानफिडेंस है कि उनका प्रत्याशी जरूर जीतेगा। हालांकि आम पब्लिक में सपा के जीत पर चर्चा अधिक हो रही है।

 

हार जीत को लेकर बहस मुबाहिसा जारी

जिले की एकमात्र डुमरियागंज लोकसभा सीट पर चुनाव के तहत 25 मई को मतदान हो चुका है और मैदान में उतरे छह प्रत्याशियों के भाग्य ईवीएम में बंद हो चुके हैं। जिसकी चार जून को मतगणना के बाद परिणाम आने हैं, लेकिन इस बीच शहर समेत ग्रामीण क्षेत्र में लोगों में चुनाव में प्रत्याशियों के जीत हार की चर्चा जोरों पर है। शनिवार सुबह शहर के अशोक मार्ग स्थित एक चाय की दुकान पर बैठे तीन लोगों के बीच चुनाव में जीत हार की चर्चा चल रही थी। उसमें एक व्यक्ति जहां सत्ताधारी पार्टी की जीत का दावा कर रहा था, वहीं दूसरा व्यक्ति पूरी दमदारी से विपक्ष के प्रत्याशी की जीत का दावा ठोक रहा था। जबकि वहां मौजूद तीसरा व्यक्ति मतगणना में परिणाम आने तक इंतजार करने पर जोर दे रहा था।  वह ब्राह्मण मतों के विभाजन को निर्णायक बता रहा था।

अमर सिंह को मिले वोट होंगे निर्णायक?

इस प्रकार की वार्ताओं में सपा के पक्ष में शर्त लगाने वाले लोग अधिक देखे जा रहे हैं। लेकिन तटस्थ लोग चर्चा में कहते हैं कि तीसरे प्रत्याशी आसपा के अमर सिंह चौधरी को जितने अधिक कुर्मी (सजातीय) वोट मिलेंगे भाजपा की जीत की संभावनाएं उतनी ही घटती जायेंगी। लेकिन भाजपा की जीत देखने वाले भी अटल हैं। उनकी एक ही दलील है कि जब तक मोदी जी हैं भाजपा की जीत पक्की हैं।

साड़ी तिराहे पर लगी बड़ी शर्त

कुछ ऐसा ही नजारा शनिवार की देर शाम शहर के खजुरिया मोड़ के पास स्थित चाय की दुकान का था। जहां चाय की चुस्कियों के बीच पहले व्यक्तिगत हालचाल पूछने के बजए लोग एक दूसरे से लोकसभा चुनाव परिणाम के बारे में पूछते नजर आए।  यहां तो कई कयासबाज परिणाम को लेकर एक दूसरे से शर्त लगाते भी देखे गये। ऐसा की हाल लोगों के घर, दुकान, चौराहे और बाजार में दिख रहा है। शर्त लगाने की सबसे अधिक खबरें साड़ी चौराहे से मिल रही हैं। जहां दो लोगों के बीच हार जीत पर टीवी लेने देने की शर्त लगी है

सपा, भाजपा जिलाध्यक्षों  का दावा—

इस मुद्दे को लेकर भाजपा जिलाध्यक्ष कन्हैया पासवान का कहना है कि लोकसभा चुनाव में पार्टी कार्यकर्ताओं ने पूरी ताकत प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार करने के साथ मतदान कराया है। इसलिए भाजपा प्रत्याशी पिछला रिकार्ड को तोड़ते हुए नए रिकार्ड मतों से चुनाव जीतेंगे। जबकि सपा जिलाध्यक्ष लालजी यादव का दावा है कि चुनाव में पार्टी नेताओं व कार्यकर्ताओं ने पूरी निष्ठा, ईमानदारी से प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार करते हुए मतदान कराया है, जिस कारण सपा प्रत्याशी को इस चुनाव में डेढ़ लाख से अधिक मतों से जीत हासिल होगी।

 

Leave a Reply