सिद्धार्थनगरः शांति पूर्वक हूआ मतदान, 55 प्रतिशत पड़े वोट, कम वोटिंग चिंता का विषय

February 27, 2017 6:38 pm0 commentsViews: 1796
Share news

नजीर मलिक

voting

सिद्धार्थगनर। जिले की ५ विधानसभा सीटों पर शांतिपूर्वक मतदान की सूचना है। शाम ६ बजे तक मतदान जारी था। शाम पौने ६ बजे तक ५३.२३ प्रतिशत मतदान की सूचना है। अभी २६२ बूथों का प्रतिशत नहीं मिला है। इसका आंकड़ा आ जाने पर मतदान का प्रतिशत ५५ हो जाने का अनुमान है।  मतदान के कम प्रतिशत का होना सियासी खेमे में चिंता का विषय बना हुआ है।

मिली जानकारी के मुताबिक जिले में कुछ ५५ प्रतिशत वोटिंग हुई है। विधानसभा वार वोटिंग  इस प्रकार है। डुमरियागंज में कुल ५०.१० प्रतिशत मत पड़े, जबकि स्पीकर माता प्रसाद पांडेय के विधानसभा क्षेत्र इटवा में ४९.६७ प्रतिशत वोट डाले गये। यहां मतदाताओं में उत्साह की कमी देखी गई। बूथों के इर्दगिर्द कोई रौनक न दिखी। इसके अलावा विधानसभा सीट शोहरतगढ़ में ५६.२३ प्रतिशत, बांसी में ५०.८२ प्रतिशत और कपिलवस्तु में ५३.२३ प्रतिशत मतदान होने की सूचना है।

thela

विशुनपुरवा में वोटिंग का बहिष्कार

बांसी विधान सभा क्षेत्र के ग्राम विशुनपुरवा के ग्रामीणों ने आज सुबह मतदान का बहिष्कार कर दिया। मतदान कर्मियों के मनाने के बावजूद वह बहिष्कार पर अटल रहे। बहिष्कार की वजह गांव में सड़क आदि विकास कार्य का न होना था।

बताया जाता है कि ग्रामीणों की जिद देख कर वहां जिले के कई अफसर व नेता पहुंचे और ग्रामीणों को बहुत समझाया। आखिर में मेहनत रंग लायी और वहां दोपह एक बजे के बाद मतदान शुरू हुआ।

नाम गायब, नहीं पहुंची मतदाता पर्ची

मतदाता सूची में कई लोगों के नाम गायब होने से वोटरों को जहां निराशहोना पड़ा, वही कई बीएलओ द्धारा घरों पर मतदाता पर्ची न पहुंचाने के कारण वोटरों को बहुत परेशानी हुई। जिला मुख्यालय के प्राइमरी पाठशाल तेतरी पर आर्यनगर, सिविल लाइनस के अनेक मतदाता इस बात की शिकायत करते मिले की वोटर स्लिप न मिलने के कारण उन्हें कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है।

वहीं इटवा क्षेत्र में पोखरभिटवा, कपिलवस्तु क्षेत्र में कोडराग्रांट, डुमरियागंज के परसा आदि गांवों में लोगों ने बताया कि वोटर लिस्ट में इस बार उनका नाम न होने से उन्हें मतदान से वंचित होना पड़ा। लोग हैरत में थे कि गत चुनाव में उनका नाम वोटर लिस्ट में था और इस बार नही है।

polic

शांति व्यवस्था चुस्त रही

इस चुनाव में पुलिस बल की भूमिका बेहतर रही। पुलि और पैरा मिलेट्री के जवानों की सक्रियता के कारण कहीं कोई अप्रिय घटना नहीं हुई। नेपाल सीमा पर भी जवान चुस्त रहे। सीमा सायं पांच बजे तक सील रही। एसपी राकेश शंकर ने शांति पूर्वक मतदान का भागीदार बनने के लिए जनता का आभार व्यक्त किया है।

 

(3)

Leave a Reply