मुकीम को लेकर क्यों डरे हुए हैं सिद्धार्थनगर के कांग्रेसी ?

March 23, 2016 8:44 AM0 commentsViews: 2028
Share news

नजीर मलिक

rahul-sonia_1

सिद्धार्थनगर। बांसी में कांग्रेस पार्टी की बैठक में तय किया गया है कि मुकामी कांग्रेस संगठन पूर्व सांसद मुकीम या उन जैसे और कई नेताओं को कांग्रेस में लिए जाने के सख्त खिलाफ है। कांग्रेसियों के इस फैसले को लोग एक सोची समझी रणनीति मान रहे हैं।

बांसी में हुई बैठक में कांग्रेस के जिलाध्यक्ष ठाकुर प्रसाद तिवारी और, पूर्व विधायक अनिल सिंह,  काजी सुहैल अहमद, सलाम एडवोकेट, मंगेश दुबे, प्रमोद उपाध्याय आदि तमाम नेताओं ने एक प्रस्ताव पारित कर कहा है कि पूर्व सांसद मुहम्मद मुकीम और अन्य कई नेता कांग्रेस को त्याग कर अतीत में धोखा दे चुके हैं। एेसे मे उनके कांग्रेस में शामिल होने का संगठन जम कर विरोध करेगा।

इस बारे में असहमति रखने वाले कार्यकर्ताओं का कहना है कि संगठन में इस प्रकार का फैसला लेना बहुत ही गैरजिम्मेदारी भरा है। एेसे निर्णय अतीत में कांग्रेस को नुकसान ही पहुंचाएंगे। इस वक्त पार्टी को बढाना पहली जरूरत है, न कि उसे कमजोर करने की।

लोगों का कहना है कि सिद्धार्थनगर कांग्रेस पार्टी में आज जनाधार वाले नेताओं की कमी है। पूर्व सांसद मुकीम का जनाधार पुख्ता है। उनके पास समर्थकों की फौज है। ऐसे में मुकीम अगर कांग्रेस में आकर चुनाव लड़ते है तो जिले में कांग्रेस की हवा बनेगी।

निष्पक्ष वर्करों का कहना है कि मुकीम के पार्टी में आने से कुछ लोगों का कद घटेगा। यही नहीं डुमरियागंज, इटवा से टिकट की उम्मीद रखने वाले अकलियत के नेताओं क उम्मीदें भी टूटेंगी। ऐसे में मुहम्मद मुकीम का पार्टी में न आना ही उनके लिए बेहतर होगा।

लोग यह भी जानते हैं कि पूर्व सांसद का पार्टी में आना तय है। ऐसे में इस प्रकार की बातें करना स्थानीय कांग्रेस में निकट भविष्य में गुटबंदी को बढावा देना है। बहरहाल पूर्व सांसद मुहम्मद मुकीम के कांग्रेस में शामिल होने की घोषणा जल्द होने वाली है। उसके बाद कांग्रेस के स्थानीय संगठन का रुख क्या होगा, यह देखना दिलचस्प रहेगा।

 

 

Leave a Reply