मेघालय में बीजेपी की सरकार बनी तो गोमांस पर नहीं होगा प्रतिबंध– भाजपा उपाध्यक्ष लिंगदोह

October 24, 2017 12:44 PM0 commentsViews: 301
Share news

विशेष संवाददाता

 दिल्ली। केन्द्र में सरकार बनने के बाद जनता पार्टी  भले ही गोमांस पर रोक के लिए तमाम प्रकार के कदम उठाये हों, लेकिन मेघालय में सत्ता हासिल करने के लिए वह दोहरी नीति अपना रही है। भाजपा ने मेघालय की जनता से वादा किया है, कि अगर उसकी पार्टी की राज्य में सरकार बनती है तो बीफ यानि गौमांस को प्रतिबंधित नहीं किया जाएगा।

 गौरतलब है कि मेघालय में जल्द ही विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। जिसके लिए भाजपा ने यहाँ के मतदाताओं को लुभाना शुरू कर दिया है। मेघालय भाजपा के उपाध्यक्ष जे ए लिंगदोह ने अपने भाषण में कहा कि , “केन्द्र द्वारा बनाए गये कानून से किसी भी स्तर पर गायों को काटने पर रोक नहीं है। ” लिंगदोह के मुताबिक सुप्रीम-कोर्ट ने केन्द्र सरकार को भारत से बाहर जानवरों की स्मगलिंग पर रोक लगाने के लिए ही सिर्फ दिशा-निर्देश बनाने को कहा है।

उनका कहना था कि इस बारे में केन्द्र की ओर से जारी अधिसूचना का मकसद सिर्फ जानवरों के खरीद और बिक्री के बाजार को नियंत्रित करना है। उन्होंने कहा कि गायों के काटने पर पूर्णरूप से प्रतिबंध नहीं है। उनके अनुसार, कानून ऐसा नहीं कहता है, यदि ऐसा कहता भी है तो इसे हाई कोर्ट या सुप्रीम-कोर्ट द्वारा अवैध करार दे दिया जायेगा।

गौरतलब है कि मोदी सरकार ने गौमांस पर पूरी तरह से रोक लगाने के लिए बाजार से गौवध के लिए गाय खरीदने-बेचने पर रोक लगा दी है। इस नये नियम के दायरे में गाय के अलावा गौ-वंश के दूसरे पशु भी हैं। लिंगदोह ने इसी साल मई में केन्द्र के इस नियम का विरोध भी किया था और कहा था कि ” हम पशुओं की खरीद-फरोख्त और उनके वध को लेकर जारी किए गये इस नये आदेश को स्वीकार नहीं कर सकते। हम अपनी खाने-पीने की आदतों के खिलाफ नहीं जा सकते हैं।”

Up kiran se

 

 

Leave a Reply