मीना एक एक विचार और सपना है, जिसे दुनियां की हर बेटी को देखना चाहिए

September 26, 2019 1:10 pm0 commentsViews: 393
Share news

निजाम अंसारी

शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर आज परिषदीय विद्यालयों का एक काल्पनिक चेहरा मीना 12 साल की हो गई जिसका आज परिषदीय विद्द्यालयों में जन्मदिन मनाया गया , इस दिन को  अध्यापक और छात्र मीना मंच के नाम से जानते है। लड़की मीना का एक सोच है, एक सपना है जो अपनी कविता के माध्यम से लाखों लड़कियों को शिक्षा के प्रति जागरूक करती है।।

मैं लड़की हूँ मुझे पढ़ना है, पढ़ने की मुझे मनाही है।

कुछ करने की मन में आयी है,  सो पढ़ना है तो पढ़ना है।

आज इन्ही पंक्तियों को दोहराते हुए लड़कियां किस तरह शिक्षा में दिलचस्पी ले रही हैं, यह जग जाहिर है। तहसील क्षेत्र के विभिन्न परिषदीय स्कूलों में मीना का जन्म दिवस हर्षोल्लास से मनाया गया। विद्यालयों में केक काटा गया। इस दौरान बच्चों ने न केवल ज्ञानपरक कहानियां सुनीं, बल्कि विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग लिया।

शोहरतगढ़ ब्लाक अंतर्गत कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय परसिया में मीना का जन्म दिवस केक काटकर मनाया गया। विद्द्यालय की इंचार्ज  प्रीति जायसवाल ने मीना के किरदार पर प्रकाश डालते हुए कहा कि मीना एक ऐसी लड़की है, जिसके मन में उमंग, उल्लास, सहानुभूति व सहायता का भाव है। तोता उसका प्यारा दोस्त है। चौबीस सितंबर को मीना का जन्म दिन मनाया जाता है।

मीना किरदार पर ही बारह कहानियां गढ़ी गई है, जो अंधविश्वास एवं रूढ़िवादिता के प्रति जागरूक करती हैं। इसके अतिरिक्त स्कूलों में मीना मंच का गठन किया जाता है, जिसका उद्देश्य शिक्षा, स्वास्थ्य, पोषण, जल एवं स्वच्छता के प्रति जागरूकता, आत्म सम्मान, आत्मविश्वास, व्यक्तित्व का विकास व सहयोग की भावना को विकसित करना है।

मीना मंच के अवसर पर आयोजिलत कार्यक्रम को मुस्तन शेरुल्लाह , मनोज कुमार आदि ने भी संबोधित किया । इस दौरान मनोज यादव, मुस्तन शेरुल्लाह खा , प्रभारी वार्डेन प्रीति जायसवाल,

प्रधान प्रतिनिधि सदानंद उपाध्याय रूबी यादव, शिवेन्द्र कुमार शुक्ला, नीतीश कुमार गुप्ता, रागिनी गुप्ता, सुनीता यादव,जयप्रकाश, अशोक यादव आदि शिक्षक और छात्र उपस्थित रहे।

 

 

 

(128)

Leave a Reply


error: Content is protected !!