मिशन साहसी कार्यक्रम बालिकाओं की सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण- आनंद गौरव

November 21, 2019 12:24 pm0 commentsViews: 270
Share news

—मिशन साहसी कार्यक्रम के समापन अवसर पर कई विद्यालयों की हजारों छात्राओं ने भाग लिया

निजाम अंसारी

शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर। वीरेंद्र ग्रामीण स्टेडियम छतहरी में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के मिशन साहसी अभियान का समापन रानी लक्ष्मीबाई जयंती के अवसर सामूहिक प्रदर्शन के साथ किया गया। छात्राओं को आत्मरक्षा के लिए प्रशिक्षित व प्रेरित किया गया। 

अभाविप की प्रांत सहमंत्री दिल्ली माह मेघा नागर ने कहा कि समाज में महिलाओं के विरुद्ध बढ़ते अपराध और अत्याचार के खिलाफ अखिल भारतीय विधार्थी परिषद देश भर में मुहिम चला कर महिलाओं को  आत्म रक्षा का गुर सिखाया जा रहा है।

प्रांतीय संगठन मंत्री आंनद गौरव ने कहा कि कहा कि जिस प्रकार समाज में छात्राओं के साथ एसिड अटैक, दुष्कर्म व छेड़छाड़ आदि की घटनाएं हो रही हैं। उसको देखते हुए मिशन साहसी अभियान चलाया जा रहा है। अभियान तब सफल होगा जब छात्राएं पूरी तरह आत्म निर्भर हो जाएंगी। एंटी रोमियों टीम व अन्य किसी के सहारे की जरूरत नहीं पड़ेगी। महिलाएं निडर होकर कहीं भी आने-जाने लगेंगी।

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे धनुर्धर प्रताप सिंह ने कहा कि युवाओं में साहसके अलावा धैर्य और कठिन परिस्थतियों में भी निर्णय लेने की क्षमता बढ़ती है। इससे पूर्व उन्होंने  मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण व पुष्पार्पण कर किया।

कार्यक्रम का संचालन अर्चिता वर्मा ने किया। कार्यक्रम में जनपद के कई विद्यालयों की हजारों छात्राओं ने भाग लिया। कार्यक्रम में प्रमुख प्रशिक्षक विद्यासागर साहनी, संदीप, अजय, नसीम, आकाश आदि ने छात्राओं को प्रशिक्षित किया।इस दौरान शिव शक्ति शर्मा, छात्रसंघ अध्यक्ष ऋषि वर्मा, नित्यानन्द शुक्ल, हेमंत राज उपाध्याय, चंदन वर्मा, शिवांगी, सपना, हितेश आदि मौजूद रहे।

 

 

 

(116)

Leave a Reply


error: Content is protected !!