नगर पंचायत के खिलाफ बगावत, कार्रवाई न होने पर अनशन का एलान

July 10, 2020 1:34 PM0 commentsViews: 470
Share news

निजाम अंसारी

शोहरतगढ़ सिद्धार्थनगर। नगर पंचायत शोहरतगढ़ प्रशासन पर मनमानी  करने का आरोप लगाते हुए सभासदों ने उच्च अधिकारियों को पत्र लिखकर कार्रवाई करने की मांग किया है। इसके अलावा उन लोगों ने कार्रवाई नहीं किये जाने पर आगामी 28 जुलाई से  अनशन किये जाने की धमकी भी दी है। सभासदों के इस एलान पर नगर का सियासी माहौल सरर्गम हो गया है। पांच सभासद विगत कई हफ्तों से अपनी मांगों को लेकर जिला प्रशासन के पास लगातार गुहार लगा रहे था।

बताया जाता है कि अधिकारियों के पास दौड़ने के बाद भी उसका कोई नतीजा नहीं निकलता देख कर एक बार फिर नगर पंचायत शोहरतगढ़के पांच सभासदों ने  उपजिलाधिकारी शोहरतगढ़, जिलाधिकारी, एस पी, मंडलायुक्त, नगर विकास मंत्री और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर  नगर पंचायत प्रशासन से अपने मतभेदों को अवगत कराया है। उच्च अधिकारियों को भेजे गए पत्र में सभासदों ने निम्न बिंदुओं से अधिकारियों को अवगत कराया है सभासदों को नगर पंचायत की बोर्ड मीटिंग की सूचना दिए बगैर गुपचुप तरीके से बैठक कर लेना आम बात हो गई है।

उन्होंने कहा है कि  चौदहवाँ वित्त, राज्य वित्त  व शासन से अबतक कुल कितना धन प्राप्त हुआ  किस किस मद में और किस किस मद में कितना खर्च किया गया है। किस को पता नहीं है। यही नहीं रजिस्टर पर पहले से ही प्रस्ताव का लिख कर लाते हैं हैं और उस पर लोगों से जबरन हसक्षर करा लिए जाते हैं। होना।

इसी प्रकर स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत आवेदकों द्वारा शौचालय निर्माण कर लेने के बाद भी लाभार्थी के खाते में अनुदान का न भेजा जाना। नगर पंचायत निवासियों द्वारा अपने भूमि पर नींव , मिट्टी पटान व भवन के मानचित्र को लेकर फर्जी नोटिस देकर  प्राइवेट कर्मचारियों के माध्यम से धन दोहन करना सभासदों की छवि को धूमिल करना जैसे प्रमुख मुद्दों पर जांच कर कार्यवाही करने की मांग शामिल है।सभासदों का कहना है यदि समय रहते  उनकी मांगों पर कार्यवाही नहीं होती है तो आने वाले 28 जुलाई को अनशन पर बैठने को बाध्य होंगे।

Leave a Reply