नगरपालिका की पहली बैठक से पहले बगावत के सुर, bjp अध्यक्ष के के खिलाफ सभासदों ने खोला मोर्चा

December 21, 2017 5:42 pm0 commentsViews: 832
Share news

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। नगरपालिका सिद्धार्थनगर में भाजपा अघ्यक्ष श्याम बिहारी के खिलाफ पहली बैठक होने से पहले ही उनके  विरोध में मोर्चा खुल गया है। इस मुहिम में उनके खिलाफ भाजपा सभासद भी शामिल हैं। यह मोर्चा आजयभासदसें की बैठक में खोला गया। बैठक में ३० में २२ सदस्य शामिल रहे और सबने  अध्यक्ष के प्रति विरोध जताया। यही नहीं २३ दिसम्बर को नगर पालिका की अधिकृत बैठक में अध्यक्ष का विरोध करने का फैसला भी किया गया।

मिली जानकारी के मुताबिक आज शहर  यानी जिला मुख्यालय के ख्जुरिया रोड में असंतुष्ट सभासदों की बैठक हुयी। बैठक में ३० सभासदों में २३ सभासद हाजिर रहे। जिनमें में अध्यक्ष की पार्टी भाजपा के भी एक दर्जन सभासद शामिल थे। भाजपा नेता और सभासद फतेह बहादुर सिंह सभा के मुख्य अतिथि थे। सबका आक्रेश था कि अध्यक्ष श्याम बिहारी जायसवाल ने अध्यक्ष और सभासद के के संयुक्त कक्ष से सभासदों का नेमा प्लेट हटवा कर लोकतंत्र का अपमान किया है।

बैठक में भाजपा नेता और सभासद फतेह बहारदुर  सिंह ने कक्ष से सभासद का बोर्ड हटाने का कड़ा विरोध् किया और कहा किअध्यक्ष की इस हरकत को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। सबसे पुराने सभासद धनन्जय सहाय ने कहा कि अध्यक्ष की यह मनमानी लोकतंत्र की हत्या है। बैठक में ३० में से २२ २२ सभासद उपस्थित रहे।

क्या है मामला

नगरपालिक सिद्धार्थलगर के कक्ष में एक कुर्सी अध्यक्ष और ३० कुर्सी सभासद की थी।  वहां एक नेम प्लेट लगाया गयाि पर अध्यक्ष व सभी सदस्य के नाम थे। जिसे अध्यक्ष ने हटवा दिया। सभासदों का आरोप है कि अध्यक्ष श्याम बिहारी जायसवाल ने कहा कि  उन्हें नपा बोई और सभाससदों की कोई जरूरत नहीं है।

क्या कहते हैं अध्यक्ष

 

इस बारे में  नगर पालिक अध्यक्ष श्याम बिहारी का कहना है कि यह परिवार का मामला है। किसी सभासद का अपमान नहीं हुआ है। २३ दिस्म्बर को बैठक गुलाई गई है। पहीं सब कुछ स्पष्ट हो जायेगा। उन्होंने कहा कि चुनाव जीतने के बाद वह पूरे नगर के अध्यक्ष के अध्यक्ष हैं। किसी विशेष दल के नहीं। सभासद गण बेकर में हंगामा कर  रहे हैं।  उन्होंने कहा कि  इी सबके अध्यक्ष है। लोगों को राजनीति नहीं करनी चाहिए।

 

 

Naoa-ashyalsh-ke-khilaf-khula-moecha

सिद्धार्थनगर। नगरपालिका सिद्धार्थनगर में भाजपा अघ्यक्ष श्याम बिहारी के खिलाफ पहली बैठक होने से पहले ही उनके  विरोध में मोर्चा खुल गया है। इस मुहिम में उनके खिलाफ भाजपा सभासद भी शामिल हैं। यह मोर्चा आजयभासदसें की बैठक में खोला गया। बैठक में ३० में २२ सदस्य शामिल रहे और सबने  अध्यक्ष के प्रति विरोध जताया। यही नहीं २३ दिसम्बर को नगर पालिका की अधिकृत बैठक में अध्यक्ष का विरोध करने का फैसला भी किया गया।

मिली जानकारी के मुताबिक आज शहर  यानी जिला मुख्यालय के ख्जुरिया रोड में असंतुष्ट सभासदों की बैठक हुयी। बैठक में ३० सभासदों में २३ सभासद हाजिर रहे। जिनमें में अध्यक्ष की पार्टी भाजपा के भी एक दर्जन सभासद शामिल थे। भाजपा नेता और सभासद फतेह बहादुर सिंह सभा के मुख्य अतिथि थे। सबका आक्रेश था कि अध्यक्ष श्याम बिहारी जायसवाल ने अध्यक्ष और सभासद के के संयुक्त कक्ष से सभासदों का नेमा प्लेट हटवा कर लोकतंत्र का अपमान किया है।

बैठक में भाजपा नेता और सभासद फतेह बहारदुर  सिंह ने कक्ष से सभासद का बोर्ड हटाने का कड़ा विरोध् किया और कहा किअध्यक्ष की इस हरकत को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। सबसे पुराने सभासद धनन्जय सहाय ने कहा कि अध्यक्ष की यह मनमानी लोकतंत्र की हत्या है। बैठक में ३० में से २२ २२ सभासद उपस्थित रहे।

क्या है मामला

नगरपालिक सिद्धार्थलगर के कक्ष में एक कुर्सी अध्यक्ष और ३० कुर्सी सभासद की थी।  वहां एक नेम प्लेट लगाया गयाि पर अध्यक्ष व सभी सदस्य के नाम थे। जिसे अध्यक्ष ने हटवा दिया। सभासदों का आरोप है कि अध्यक्ष श्याम बिहारी जायसवाल ने कहा कि  उन्हें नपा बोई और सभाससदों की कोई जरूरत नहीं है।

क्या कहते हैं अध्यक्ष

 

इस बारे में  नगर पालिक अध्यक्ष श्याम बिहारी का कहना है कि यह परिवार का मामला है। किसी सभासद का अपमान नहीं हुआ है। २३ दिस्म्बर को बैठक गुलाई गई है। पहीं सब कुछ स्पष्ट हो जायेगा। उन्होंने कहा कि चुनाव जीतने के बाद वह पूरे नगर के अध्यक्ष के अध्यक्ष हैं। किसी विशेष दल के नहीं। सभासद गण बेकर में हंगामा कर  रहे हैं।  उन्होंने कहा कि  इी सबके अध्यक्ष है। लोगों को राजनीति नहीं करनी चाहिए।

 

 

(926)

Leave a Reply


error: Content is protected !!