पाक रमजान के महीने में पेड़ के फंदे से क्यों जान दे बैठा 21 साल का सलमान

April 9, 2022 12:25 PM0 commentsViews: 99
Share news

कहीं आत्महत्या कारण  सलमान का किसी लड़की से प्रेम सम्बंघ तो नहीं था या घोर उपेक्षा के कारण वह निराशा व हताशा के दौर में था?

 

अजीत सिंह

खेसरहा। थाना क्षेत्र के वत्सा गांव में शुक्रवार को दोपहर बाद एक युवक द्धारा पेड़ लटक कर जान दे ने का मामला प्रकाश में आया है।। मृतक का नाम सलमान अहमद है। उसकी उम्र लगभग 21 साल थी और अभी तक विवाहित था। घटना की खेसरहा पुलिस जांच कर रही है कि क्या वह वास्तव में आत्महत्या है। यदि यह सच है तो खुदकशी की वजह क्या है? आम तौर पर मुस्लिम समाज रमजान के पचित्र महीने में आत्महत्या जैसे जघन्य कृत्य से पूरी तरह दूर रहता है।

खबर है कि कल दोपहर लगभग 3 बजे के आस पास गांव के दक्षिण गड्ढे के पास से कुछ बच्चे गुजरे तो देखा कि  वहां  आम के पेड़ की डाल से रस्सी के सहारे एक युवक की लाश लटकी हुई है। यह देख बच्चों ने शोर मचाना शुरू किया। शेर सुन कर गांव वाले मौके पर पहुंचे तो देखा कि वह लाश सलमान की थी। लेकिन सलमान आत्महत्या क्यों करेगाा यह बात किसी के समझ में नहीं आ रही थी।

घटना की सूचना पर आनन फानन में खेसरहा पुलिस भी घटना स्थल पर पहुंच गई। उन्होंने ने लाश को नीचे उतरवाया और आवश्यक पूंछ ताछ के उपरांत पंचायत नामा कर शव को पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया। गांव वाले ताज्जुब में हैं कि आखिर रमजान के महीने में सलमान नेकिस वजह से ऐसा कदम उठाया? कहीं ऐसा तो नहीं कि यह सुनियोजित हत्या का मामला हो जिसे आत्महत्या रूप दे दिया गया हो?

बता दें कि मृतक युवक के माता-पिता का काफी दिन पहले स्वर्गवास हो गया था। अपने तीन भाईयों में वह सबसे छोटा था। मां बाप के न रहने पर घर का छोटा लड़का अपनी उपेक्षा से अक्सर निराश होकरकिसी साथी की तलाश में लग जाता है। उसकी शादी नहीं हुइ थी। इसलिए ऐसे में आत्महत्या का कारण प्रेम प्रसंग भी हो सकता है। फिलहाल परिजन तो यही कह रहे हैं कि लगभग एक वर्ष से उसकी दिमागी हालत ठीक नहीं थी लेकिन गांव वाले बताते हैं कि उसकी हालत इतनी भी बुरी नहीं थी कि वह अचानक सुसाइड कर ले। । इस बावत पूंछे जाने पर थानाध्यक्ष मिथलेश राय ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि लाश को पीएम हेतु जिला चिकित्सालय भेजा गया है तथा मामले की जांच की जा रही है।

 

 

Leave a Reply