अपदा प्रबंधन बैठक में बाढ़ से डूबते इंसान के बचाव व स्ट्रेचर बनाने के गुर बताए गये

July 26, 2022 12:49 pm0 commentsViews: 90
Share news

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर। जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण/जिलाधिकारी संजीव रंजन के निर्देश में क्रम सोमवार को देश की आजादी के 75 वे साल पर आजादी के अमृत महोत्सव मानने के दौरान लोगो को तिरंगा घर लाने और फहराने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए”हर घर तिरंगा”अभियान शुरू किया।  इस मुहिम के तहत एनडीआरएफ ने तहसील डुमरियागंज में “फ्रंट लाइन वर्कर का बाढ़ पूर्व की तैयारी व प्रतिक्रिया विषयक प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया।  प्रशिक्षण में एन. डी. आर.एफ. टीम द्वारा रोड एक्सीडेंट,सर्पदंश, गंभीर चोट,भूकंप व बाढ़ एव बज्रपात से बचाव व निपटने के तरीको को भी बताया गया

कार्यक्रम के दौरान एन डी आर एफ की संरचना एवं कार्यशैली व आपदा प्रबंधन के विषय में विस्तृत जानकारी दिया गया, तत्पश्चात मास्टर प्रशिक्षकों द्वारा बाढ़ जैसी आपदा से बचाव के लिए आपदा से पूर्व, दौरान और बाद में अपनाई जाने वाली सावधानियों के बारे में जानकारी तथा बाढ़ के दौरान जीवन सुरक्षा हेतु निर्मित रक्षक जैकेट बनाने का तरीका, सांप काटने पर दीये जाने वाले उपचार तथा भूकंप, भूस्खलन जैसी आपदाओं में घायल हुए व्यक्तियों को अस्पताल से पूर्व चिकित्सा के बारे में बताया गया|

आपदा के दौरान या सामान्य जीवन में चोट लगने पर प्राथमिक उपचार जैसे ड्रेसिंग, बैंडेज, खून का बहाव रोकना, फैक्चर को स्थायित्व प्रदान करना, जीवन रक्षक सीपीआर का प्रशिक्षण, घायल व्यक्ति को एंबुलेंस या हॉस्पिटल तक ले जाने के लिए घरेलू सामानों के द्वारा स्ट्रेचर बनाने का तरीका, डूबे हुए व्यक्ति  को प्राथमिक उपचार देने का तरीका, आकाशीय बिजली (दामिनी ऐप) से बचने का तरीका बताया गया|

प्रशिक्षण में नायब तहसीलदार आनंद कुमार ओझा, कानूनगो दानपाल, व लेखपाल,ग्राम विकाश अधिकारी,रोजगार सेवक,अध्यापक  आशा वर्कर शिक्षा मित्र आपदा मित्र,आपदा शाखी आदि शामिल थे। इस कार्यक्रम को तहसील सभागार डुमरियागंज के तहसीलदार अरूण कुमार वर्मा की अध्यक्षता में संपन्न किया गया|

 

 

(71)

Leave a Reply


error: Content is protected !!