आतंक का पर्याय बना तेंदुआ, पांच और ग्रामीणों को घायल कर फिर भाग निकला

April 3, 2021 1:50 pm0 commentsViews: 501
Share news

,तेंदुए को पकड़ने के लिए वन विभाग की सभी रणनीति हो रही फेल

 

 अजीत सिंह

 

 

गोरखपुर। कुशीनगर जिले के खड्डा थाना क्षेत्र अन्तर्गत भेड़ी जंगल गांव के पास झाड़ियों में छिपे तेंदुए ने उस वक्त ग्रामीणों पर हमला कर दिया जब ग्रामीण उसे पकड़ने के लिए ढूंढ रहे थे। हमले दो महिलाओं समेत पाँच ग्रामीण घायल हुए हैं। घटना के समय वन विभाग तथा खड्डा थाने की पुलिस कर्मी उपस्थित थे, लेकिन उन्हें तेंदुए को पकड़ने में सफलता नहीं मिली। तेंदुआ पिछले एक सप्ताह से क्षेत्र में आतंक मचााए हुए है। उसकी दहशत से लोगों ने घरों से निकलना तक बंद कर दिया है।

बताते है कि पिछले एक सप्ताह से एक तेंदुआ भटक कर खड्डा क्षेत्र में आ गया है। उसे पहली बार पिछले शनिवार को क्षत्र में देखा गया। खड्डा थाना क्षेत्र के ग्राम सभा लखुआ लखुई के हसनू टोला में इसी दिन तेंदुए ने बकरी चरा रही प्रभावती सहित अखिलेश,रुदल, यूनूस व जय सिंह को घायल कर दिया। घायलों को सीएचसी तुर्कहा में भर्ती कराया गया। तेंदुआ ग्रामीणों को हमले में घायल करने के बाद सरेह की तरफ भाग गया।

शाम को तेंदुए ने एक कुत्ते को भी अपना शिकार बना लिया। सरेह की तरफ निकले लोगों ने गेंहू के खेत में कुत्ते का शव देख इसकी सूचना वन विभाग को दी। वन विभाग की टीम वन रेंजर बी.के. यादव की अगुवाई मंगलवार की सुबह मौके पर पहुंच जायजा लिया। उसक बसद तेंदुए को घेरने की रणनीति बनाई।

गुरुवार की दोपहर वन विभाग के क्षेत्राधिकारी बीके यादव, फॉरेस्टर बीके सिंह तथा खड्डा थाने के सिपाही हल्का दरोगा पीके सिंह के नेतृत्व में कांबिंग कर रहे थे। भीड़ को देखकर बौखलाए हुए हैं तेंदुए ने भेड़ी जंगल निवासी सुकई सुपुत्र वृक्षा (50), केदार पुत्र महादेव (50), गणेश पुत्र दलसिंगार (36) पर हमला कर लहूलुहान कर दिया। इसके अलावा भेडी जंगल गांव की दो महिलाएं भी घायल हुई हैं। सभी घायलों को इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तुरकहा ले जाया गया। सभी घायल खतरे से बाहर बताए जा रहे हैं।

 

(478)

Leave a Reply


error: Content is protected !!