बसडिलिहा में पुलिस ने भांजी लाठी, तीसरे चरण में 53.97 फीसदी मतदान

October 17, 2015 5:59 pm0 commentsViews: 240
Share news

संजीव श्रीवास्तव

17.10.15 voting

पंचायत चुनाव के दौरान तीसरे चरण के मतदान में सिद्धार्थनगर के डुमरियागंज विकास क्षेत्र के बसडिलिहा गांव में पुलिस ने मतदाताओं पर लाठियां भांजी। इससे बूथ पर भगदड़ मच गयी है। बाद में एसपी और जिलाधिकारी ने मतदाताओं को समझा-बुझाकर शांत कराया।

यहां बता दे कि शनिवार को सिद्धार्थनगर जिले के डुमरियागंज, भनवापुर एवं खुनियांव विकास क्षेत्रों में क्षेत्र पंचायत एवं जिला पंचायत सदस्य पद के लिए मतदान हुआ। बसडिलिहा गांव में बूथ पर पुलिस ने मतदाताओं पर लाठियां बरसानी शुरु कर दी। इससे इस बूथ पर लगभग आधा घंटा मतदान रुका रहा।

बाद में जिलाधिकारी डा. सुरेन्द्र कुमार एवं एसपी अजय कुमार साहनी ने ग्रामीणों को समझा-बुझाकर मतदान करने के लिए तैयार कराया। सुबह 7 से शाम 5 बजे तीनों ब्लाकों में वोट डाला गया। इन तीनों विकास खंडों में जिला पंचायत के 14 एवं क्षेत्र पंचायत सदस्यों के 354 सीटों पर उम्मीदवारों की किस्मत मतपेटिकाओं में बंद हो गया है। बाद में डीआईजी बस्ती लक्ष्मी नारायण ने भी कई बूथों का निरीक्षण किया।

यहां बता दें कि भनवापुर में क्षेत्र पंचायत सदस्यों के 106, खुनियांव में 107 एवं डुमरियागंज में 141 सदस्यों के लिए मतदान हो गया है। तीनों क्षेत्रों में मतदाताओं की तादाद 5 लाख 19 हजार 5 सौ 67 है, जिसमें लगभग 2 लाख 80 हजार से अधिक मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। शाम 5 बजे तक भनवापुर में 56.37 फीसदी, खुनियांव में 53.9 फीसदी एवं डुमरियागंज में 51.66 फीसदी मतदान हुआ।

शनिवार को जिन प्रत्याशियों की किस्मत बाक्स में बंद हुई, उसमें विधायक मलिक कमाल युसूफ के पुत्र इरफान मलिक, बसपा नेत्री सैयदा के चाचा मलिक अयूब उर्फ चिन्ने, जिला पंचायत अध्यक्ष पूजा यादव, उनके देवर छोटे यादव, अफसर रिजवी, लवकुश ओझा आदि प्रमुख हैं।

(6)

Leave a Reply


error: Content is protected !!