प्यार और फरेब है सिद्धार्थनगर जिले की सबसे बड़ी समस्या- डीआईजी

May 13, 2016 3:45 PM0 commentsViews: 1066
Share news

नजीर मलिक

dig

सिद्धार्थनगर। बस्ती रेंज की डीआईजी लक्ष्मी नारायण ने जिले में लड़कियों के भागनेदृभगाने और फरेब यानी ४२० के मामलों को पुलिस के लिए सबसे बड़ा सरदर्द बतात हुए कानून व्यवस्था के प्रति संतोष व्यक्त किया है।

आज यहां एसपी आफिस में हुई प्रेस कान्फ्रेंस के दौरान उन्होंने कहा कि जिले में 2015 की १४२९ पत्रावलियां लम्बित हैं। इनमें से अधिकांश अपहरण यानी लड़कियों को भगाने और जालसाजी से संबन्धित हैं। तमाम बड़े अपरोधों में से कोई पत्रावली लंबित नहीं है।

डीआईजी लक्ष्मीनारायण ने साफ किया कि चूंकि भगई गई लड़कियों की बरामदगी के अभाव में चार्जशीट दाखिल करना कानूनन संभव नहीं हैए इसलिए ऐसी पत्रावलियों को लंम्बित ही रहना है। वरना जिले में ला एंड आर्डर का मामला ठीक है।

उन्होंने पुलिस कप्तान अजय साहनी की पीठ भी ठोकी और कहा कि उन्होंने जिले में बड़े अपराधियों का सफाया कर दिया है। नेपाल बार्डर से कुछ बदमाश जरूर है, उन पर नजर रखी जा रही है।

बिजली सड़क पर भी चिंता

डीआईजी ने जिले में बिजली और सड़क की समस्या पर भी चिंता बताई और कहा कि उन्होंने कमिश्नर से शहर की सडक और बस्ती मार्ग के बारे में शासन को पत्र लिखवाया है।

डीआईजी ने इससे पूर्व भवानीगंज, चिल्हिया थाने का निरीक्षण किया और कुछ कमियों पर ध्यान दिलाया। उन्होंने पुलिस लाइन कर निरीक्षण भी किया। विभागीय बैठक भी ली।

Leave a Reply