दशहरे पर अमन और शांति के लिए 6 हजार नौजवान करेंगे पुलिसिंग, दिए जा रहे आईडी कार्ड

October 21, 2015 6:39 AM0 commentsViews: 158
Share news

नजीर मलिक

durga

दुर्गा प्रतिमाओं के शांतिपूर्ण विसर्जन के लिए सिद्धार्थनगर पुलिस ने अभिनव प्रयोग किया है। उसने विशेष पुलिस आफिसर यानी एसपीओ की तर्ज पर 6 हजार से अधिक उत्साही नौजवानों को इस काम में लगाया है। यह नौजवान पुलिस को सहयोग देकर प्रतिमा विसर्जन में मदद देंगे।

इस बार जिले में कुल 1263 प्रमिताओं की स्थापना की गई है। पुलिस ने एक डोले के लिए उसी क्षेत्र के पांच उत्साही और कर्मठ नौजवानों का चयन किया है। इस हिसाब से जिले भर में कुल 6315 नौजवानों का चयन किया गया हैं। इस प्रकार कुल 1263 टोलियां निगरानी पर लगेंगी।

बताया गया है कि इन नौजवानों की टोली डोलों को प्रतिमा पांडाल से लेकर विसर्जन स्थल तक व्यवस्थित और शांतिपूर्ण तरीके से ले जाने में सहयोग करेगी और किसी अप्रिय स्थिति का सदभावना पूर्वक निपटारा भी करेगी।

खबर के मुताबिक इसी शुरुआत सदर थानाध्यक्ष शिवाकांत मिश्रा ने की, जिसे जानने के बाद एसपी अजय कुमार साहनी ने इस प्रयोग को पूरे जिले के लिए लागू कर दिया। जिसे हर थानाध्यक्ष ने इसे गंभीरता से लिया है।

जिले के सभी थानों की पुलिस अपने क्षेत्र की प्रतिमाओं के लिए युवकों का चयन कर उन्हें आईडी कार्ड बांट रही है। याद रहे कि इस प्रकार के प्रयोग अतीत में बहुत सफल रहे हैं। महाराष्ट्र के भिवंडी जिले में अस्सी के दशक में इसका सफल प्रयोग हो चुका है।

सदर थाने में 76 पांडाल

सदर थाना क्षेत्र में इस बार दुर्गा ्रतिमाओं के कुल 76 पांडाल सजाये गये है। थानाध्यक्ष शिवाकांत मिश्रा ने बताया कि उन पांडालों की टोलियों के लिए 380 कार्ड बांटे जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि मूर्ति विसर्जन पारम्परिक तरीके से जमुआर घाट पर होगा।

एसपी अजय कुमार साहनी ने इस योजना की तारीफ करते हुए बताया कि कार्ड बांटेे जा रहे हैं। उन्होंने पर्व को शांति सौहार्द्र के साथ मनाने की अपील की है। अवांछनीय हरकत करने वालों के खिलाफ उन्होंने सख्त कारवाई की चेतावनी भी दी है।

Leave a Reply