संपत्ति के लालच में बेटी ने प्रेमी संग मिल कर किया था बाप का कत्ल, दोनों जेल गये

December 11, 2020 12:17 pm0 commentsViews: 487
Share news

शिव श्रीवास्तव

महाराजगंज।बीते दिनों नैनसर निवसी की हुई हत्या का राज पुलिस ने खोल लिया है। आज पुलिस अधीक्षक महाराजगंज प्रदीप गुप्त ने बताया कि हसबुद्दीन अपनी बाग बेचना चाहता था जिसको रोकने के लिए उसकी बड़ी बेटी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर उसकी हत्या कर शव को पौंह नाले में छुपा दिया था। बीते 1 दिसंबर को उसका शव नाले में उतराता हुआ पाया गया था।

बीते दिनों पौह नाले में पेट्रोल पंप के पास पानी के अंदर एक शव पाया गया था। जिसकी पहचान नयनसर निवासी हसबुद्दीन के रूप में हुई थी। पुलिस जांच में जुटी हुई थी, मृतक की बड़ी पुत्री सबीना खातून की तहरीर पर स्थानीय थाने पर मुकदमा दर्ज हुआ था, जो अज्ञात के खिलाफ था। जिसकी विवेचना पुलिस कर रही थी।  दौरान विवेचना में पता चला कि मृतक की 7 बेटियों में से सबसे बड़ी बेटी सबीना खातून का प्रेम प्रसंग उसी गांव के निवासी राजेंद्र चौधरी से काफी दिनों से चल रहा है।

 एसपी प्रदीप गुप्ता के मुताबिक प्रत्यक्ष रुप जो तथ्य समने थे उनमें से हत्या की यही एक एक वजह हो सकती थी। लिहाजा इसी संभावना के आधार पर पुलिस ने छान बीन शुरू की। जांच के दौरान पता चला कि मृतक अपनी पुस्तैनी जमीन बेचना चाहता था, जिसको लेकर पिता और पुत्री के रिश्ते ठीक  नहीं थे।  सबीना नहीं चाहती थी कि बाकी जमीन बेची जाए। क्योंकि हसमुद्दीन पहले भी अधिकांश जमीन बेच चुका था। जमीन की इसी लालच ने पुत्री को पिता का दुश्मन बना दिया।

इतनी जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने सबीना पर शिकंजा कसना शुरू करदिया। निरंतर पूछताछ के दौरान वह टूट गई। सबीना ने  कबूल किया कि जायदाद बचाने के लिए उसने सुनियोजित तरीके से अपने प्रेमी राजेंद्र चौधरी के साथ मिलकर सोते बाप का मुंह और गला तकिए से दबाकर मार डाला और  लाश को नाले में फेंक दिया । इसके बाद दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तारी और खुलासे में थानाध्यक्ष संजय दुबे के अलावा कांस्टेबल प्रेम शंकर दुबे, शिवेंद्र शाही, सुशील उपाध्याय एवं महिला सिपाही अनुराधा शुक्ला आदि शामिल रहे।

Leave a Reply