प्रदेश में पहलेे चौबीसों घंटे चलती रहती थी भ्रष्टटाचार की साइकिल

October 25, 2021 8:06 pmComments Off on प्रदेश में पहलेे चौबीसों घंटे चलती रहती थी भ्रष्टटाचार की साइकिलViews: 360
Share news

पिछली सरकारों मेेंं देश को बर्बाद करने में कोई कोर कसर नहीं छोडी गई

सात साल पहले स्वास्थ्य सेेवा बदहाल, अब  60 हजार सीटें बढ़ाई गईं

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश और प्रदेश की बर्बादी का जिम्मेदार  विपक्षी सरकारों को बताते हुए कहा है कि पहले की केन्द्र सरकार जनता की गाढ़ी कमाई लूट कर अपनी तिजोरियां भरती थी तो प्रदेश सरकार चौबीसों घंटे भ्रटाचार की साइकिल चलाया करती थी।  प्रधानमंत्री सोमवार को सिद्धार्थनगर नगर समेत प्रदेश के 9 मेडिकल कालेजों का उद्घाटन करने आये थे और यहां बीएसए ग्राउंड पर विशाल जनसभा को सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने साफ कहा कि पिछली सरकारों ने देश का बर्बाद करने में कोई कोर कसर नहीं सात साल पूर्व भाजपा की सरकार बनने से पहले की केन्द्र सरकार शिलान्यास करती थी और मामला खतम हो जाता था।

उन्होंने इसकी मिसाल देते हुए कहा कि पिछले 70 सालों में देश में मेडिकल कालेजों की दशा शोचनीय थी। अब 60 हजार सीटें बढ़ाई गई हैं। प्रदेश में अब तक 19 सौ ग्रेजुएट डाक्टरों की सीट थी, मगर इस सरकार के चार सालों में ही 19 सौ से अधिक नयी सीटें के अवसर बनाये गये। पीएम ने कहा कि इसी प्रकार प्रदेश में योगी जी के आने के पहले यहां चौबीसों घंटे भ्रष्टाचार की साइकिल चलती रहती थी। हर तरफ खाने कमाने और कमीशन का बोलबाला था। ठेके देने में कमीशन, भुगतान लेने में कमीशन, ट्रांसफर पोस्टिंग में कमीशनखोरी का धंधा खुले आम होता था। यह हमारी सरकार थी जिसने देश में सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास का माहौल पैदा किया।

प्रधानमंत्री मोदी ने विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज का दिन सब लोगों के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है। प्रदेश के सभी लोगों के लिए नौ मेडिकल कालेज का उद्घाटन एक साथ करना, बहुत बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि सब जानते है आजादी के पहले 4 मेडिकल कालेज थे। 2016 तक गवर्नमेंट सेक्टर में सेक्टर में 16 मेडिकल का थे। आज 30 मेडिकल कालेज खुल रहे है। और नौ मेडिकल कालेज में आज से एमबीबीएस की पढ़ाई शुरू हो रही है और 14 मेडिकल प्रगति पर है। उन्होंने कहा कि अब गांव और गरीब के बच्चे भी बहुत कम पैसे में डाक्टर बनने का सपना पूरा कर सकें।

प्रधनमंत्री ने दीपावली और छठ पर्व की बधाई देते हुए कहा कि आज का दिन पूर्वाचल के साथ ही पूरे उत्तर प्रदेश के लिए आज उपहार लेकर आया हु। और पूर्वाचल से ही पूरे देश को मेडिकल कालेज के उद्घाटन के बाद आर्शीवाद लेकर काशी जाऊंगा और वहाँ शुभारंभ करूंगा। यूपी में जो सरकार है। वह अन्य कर्मो का फल है।

सिद्धार्थनगर के नवनिर्मित मेडिकल कालेज की चर्चा करते हुए कहा कि इसे 5 हजार से अधिक डॉक्टर व पैरामेडिकल को रोजगार मिलेगा। जिस पूर्वाचल को पहले के सरकारों ने बीमारियों से जूझने के लिए छोड़ दिया था। अब वही मेडिकल का हब बनेंगे। जिस पूर्वाचल की छवि पिछली सरकारों ने खराब की थी वह अब सही किया गया तथा प्रदेश उजाला देने का कार्य किया।

इससे पूर्व पीएम मोदी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भोजपुरी में जनता का अभिवादन किया। उन्होंने कहा आज उत्तर प्रदेश के नौ जनपद में मेडिकल का उद्घाटन समारोह है। जिसके शुभ अवसर पर उपस्थित सभी का प्रणाम किया और मेडिकल कालेज की स्वाग दी। उन्होंने उपस्थित जनसमुदाय के अनुमति लेकर सम्बोधित को प्रारंभ किया और उन्होंने कहा यह नारे और जोश अभी कई महीनों तक चलना है।

मेडिकल कालेज के नामकरण के सम्बंध में उन्होंने कहा कि सिद्धार्थनगर ने स्व.माधव प्रसाद त्रिपाठी जी जैसे महान व्यक्ति को दिया। जो काम आ रहे है। यूपी भाजपा के पहले प्रदेशाध्यक्ष के साथ जिले की विकास की चिंता थी। और उन्हीं के नाम से मेडिकल कालेज का नामकरण किया गया है। माधव बाबू का नाम यहाँ से पढ़कर निकलने वाले डॉक्टरों को सेवा भाव देंगे। यह मेडिकल कालेज पूर्वाचल वासियों के सेवा के लिए तैयार है। 5 हजार से अधिक डॉक्टर व पैरामेडिकल को रोजगार दिया गया। जिस पूर्वाचल को पहले के सरकारों ने बीमारियों से जूझने के लिए छोड़ दिया था। अब वही मेडिकल का हब बनेंगे।

पीएम ने कहा कि जिस पूर्वाचल की छवि पिछली सरकारों ने खराब की थी वह अब सही किया गया। वही पूर्वाचल, वही प्रदेश उजाला देने का कार्य किया। यूपी के भाई बहन वह भूल नही सकते। मेडिकल की बदहाली को जो योगी जी ने संसद में उठाया था। योगी जी को जब प्रदेश के जनता ने सहयोग दिया तो गरीबो का दर्द समझने का काम किया।

उन्होंने कहा कि पहले यहां राजनीति होती थी। अपने लिए कमाना और अपना तिजोरी भरी जाती थी। बीमारी अमीरी गरीबी नही देखती है। जितना बड़े लोगो को स्वास्थ्य सुविधा की जरूरत होती है। वही गरीबो को भी होती है। पहले की सरकारें छोटी छोटी अस्पताल की घोषणा करके भूल जाते थे और भ्रष्टाचार की साइकिल 24 घण्टे चलाते थे। एम्बुलेंस में भ्रष्टाचार, भर्ती में भ्रष्टाचार, दवा में भ्रष्टाचार को बढ़ाया दिया जाता था। वह क्या जाने पीर पराई।

इससे पूर्व प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने कहा कि कोरोना काल खंड को लेकर एक जिला एक मेडिकल कालेज बनाया जा रहा। पहले इंप्लाइटिस से मौते होती थी। मेडिकल कालेज बनने से लोग बेहतर ढंग से इलाज करा सकेंगे।

सम्बोधन से पहले पीएम मोदी ने प्रदेश के 9 मेडिकल कालेजों का रिमोट बटन दबा कर जनता के लिए लोकार्पित किया। प्रधनमंत्री का स्वागत केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मानडविया सांसद तथा उनसे पहले सांसद जगदम्बिका पाल व विधायक श्यामधनी राही ने सबोधित किया। प्रधानमंत्री के साथ मंच’ पर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, प्रदेश भजपा अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह, प्रभारी मंत्री  स्वामी प्रसाद मौर्य, राज्यसभा सदस्य बृजलाल, स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, शिक्षा राज्यमंत्री सतीश द्धिवेदी, विधायक राधवेन्द्र सिंह, विधायक अमर सिंह चौधरी भी रहे।

इसके अलावा मंच के समीप बने एक अन्य मंच पर क्षेत्रीय महा मंत्री धर्मेंद्र सिंह, भाजपा जिला अध्यक्ष गोविंद माधव, विपिन सिंह, माधव, राजिंद्र पाण्डेय, दिलीप चतुर्वेदी, नरेंद्र मणि कन्हैया पावन, आशीष शुक्ला, त्रिपाठी रामकुमार कुंवर शिवनाथ चौधरी, मधुसूदन अग्रहरि सौरभ, फतेबहादुर सिंह, श्याम संदर मित्तल, राजू सिंह, महेश वर्मा, उमेश पाण्डेय आदि रहे।

 

 

 

(288)

Comments are closed

error: Content is protected !!