मां-बाप के जुल्म और पुलिस की दुत्कार से फांसी पर झूल गया निसार, हालत नाजुक

March 2, 2016 4:59 PM0 commentsViews: 1143
Share news

नजीर मलिक

पिछले २४ जनवरी को निसार की पत्नी यानी अपनी सगी बहू की पिटाई कर घर से निकालता जुमराती

पिछली २४ जनवरी को निसार की पत्नी यानी अपनी सगी बहू की पिटाई कर घर से निकालता जुमराती

सिद्धार्थनगर। बाप और सौतेली मां के उत्पीड़न और पुलिस की गैरजिम्मेदारी से परेशान निसार आखिर तंग आकर घर में फांसी पर लटक गया। गांव वालों ने दरवाजा तोड़ कर उसकी जिंदगी तो बचा लिया, लेकिन इस मामले ने लोटन कोतवाली पुलिस का लुटेरा चेहरा उजागर कर दिया है।

मस्जिदिया गांव के रहने वाले निसार अहमद का मामले में गत 24 जनवरी को कपिलवस्तु पोस्ट ने विडियो क्लिप के साथ खबर दी थी। विडियों में निसार की पत्नी इस्लामुन्निसां को उसका ससुर यानी निसार का बाप मार–पीट कर घर से निकाल रहा था। मौके पर पूरी भीड़ तमाशाई बनी थी।

बहरहाल कपिलवस्तु की खबर के बाद निसार के बाप जुमराती और उसकी पत्नी निसार को मकान में रहने देने पर राजी हो गये। लेकिन एक महीने बाद निसार की सौतेली मां दोनों को फिर घर से निकालने लगी। फिर दोनो पक्षों में विवाद हो गया।

बताया जाता है कि जुमराती ने तीन चार दिन पहले लोटन पुलिस को तहरीर देकर अपने बेटे के खिलाफ एनसीआर दर्ज कराया, लेकिन निसार की तहरीर पर कोई कार्रवाई नहीं की। इस पर हताश निसार ने आज दोपहर खुद को कमरे में बंद कर गले में फंदा डाल कर लटक गया।
निसार की पत्नी के चिल्लाने पर ग्रामीणों ने मिल कर कमरे का दरवाजा तोड़ा और निसारी को नीचे उतरा। तब तक वह बेहोश हो चुका था। खबर लिखने तक उसकी हालत नाजुक बनी हुई है।

बतातें चलें कि निसार के बाप जुमराती ने दूसरी शादी की है। नई बीबी के आने के बाद से ही बेटे और बहू को घर सम्पत्ति से बेदखल करने का प्रयास महीनों से चल रहा है। लेकिन जुमराती के पैसे के दबाव में पुलिस चुप बैठी हुई है।

Leave a Reply