स्वरूपानंद जी से राम कथा सुन भाव विभोर हुए श्रद्धालु, श्रोता

April 9, 2019 1:17 pm0 commentsViews: 410
Share news

अमित श्रीवास्तव

मिश्रौलिया, सिद्धार्थनगर। खुनियांव विकास खण्ड के कनकटी बाजार में चल रहे नौ दिवसीय संगीतमयी राम कथा में कथा वाचक स्वरूपानंद जी महराज ने भगवान राम और माता सीता के विवाह की कथा का प्रसंग सुनाया।भगवान की कथा सुन कर सभी श्रद्धालु भावविभोर हो गए।

कथावाचक ने बताया कि भगवान अपने भक्तो की रक्षा करते है और भक्तो की मनोकामना को भी पूरा करते है।जब धरती पर अत्याचार व अनाचार बढ़ा है भगवान किसी न किसी रूप में अवतरित होकर अपने भक्तो की रक्षा की है।इस दौरान उन्होंने कहा कि रावण ने प्राणियो के साथ अत्याचार करना शुरू किया तो राजा दशरथ के घर भगवान राम ने अवतरित होकर रावण का संहार किया।भगवान राम के विवाह की कथा के दौरान स्वयंबर में धनुष तोड़ने और भगवान राम व माता सीता की मनमोहक झांकी भी कलाकारों ने प्रस्तुत की।

कथा वाचक ने कहा कि मनुष्य के जीवन में गुरु का बड़ा महत्व है।हमेशा गुरु का सम्मान करना चाहिए।भगवान राम के विवाह में आये भक्तो ने नाच गाकर खुशियां मनायी।कथा के दौरान शांतेश्वर नाथ त्रिपाठी, जटाशंकर वर्मा, राहुल वर्मा, प्रह्लाद वर्मा, अमित श्रीवास्तव, चन्दू,लालमन, बद्री अग्रहरी, विजय, विनोद सहित तमाम भक्त मौजूद रहे।

 

Leave a Reply