भगवद् की प्राप्ति के लिए देवता भी मानव जन्म लेते हैं– कौशल महाराज

March 28, 2016 11:35 AM0 commentsViews: 173
Share news

 

इमरान दानिश

katha

शोहरतगढ़ सिद्धार्थनगर। भगवान की कथा सुनने से भगवान् से मिलने की लालसा पैदा होती है । बिना संत के भगवान मिला नहीं करते । भक्त और भगवान के बीच संत  एक सशक्त माध्यम होते हैं।

उक्त बाते राम कथा वाचक श्री विजय कौशल महराज ने कहीं। वह शोहरतगढ़ के वीरेंद्र ग्रामीण स्टेडियम में बीती शाम आयोजित राम कथा अमृत वर्षा कार्यक्रम में भक्त जनो को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि धर्म मानवता का संदेश देता है।

कौशल जी महाराज ने कहा की संत के सानिध्य से ही राम कथा सुनने का अवसर मिलता है। ऐसा अवसर जिसको मिले वो धन्य है । उन्होंने एक चौपाई के माध्यम से कहा कि–

“मेरा तार हरी संग जोड़े ऐसा कोई संत मिले ।
मेरे भाव के बंधन खोले ऐसा कोई संत मिले”।।

चौपाई सुन के श्रोता झूमने लगे । महराज ने बताया की बड़ी मुश्किल से मानव योनि मिलती है। इसे यरें ही बेकार न जाने दो ।देवता भी भगवद् की प्राप्ति के लिए मानव जन्म लेते हैं ।

इस दौरान राधेरामन त्रिपाठी, अशोक बोरा, रज्जू बोरा,सिद्धार्थ अग्रवाल, नंदू गौड़, विजय परसरामका, नलिनीकान्त मणि त्रिपाठी, डी एन उपाधयाय, राजेश सिंह, राममिलन त्रिपाठी, हरिद्वार जायवाल, भोलेनाथ वर्मा,  पलटू, जयप्रकाश वर्मा आदि उपस्थित रहे ।

 

Leave a Reply