Death mistry- प्रेम विवाह के बाद पहली बार ससुराल देखने आयी रीतू फिर न लौट सकी दिल्ली

December 28, 2023 12:55 PM0 commentsViews: 681
Share news

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। शोहरतगढ़ थाने के धनौरा मुस्तहकम गांव में मंगलवार को संदिग्ध हालात में  २२ वर्षीया विवाहिता रीतू पत्नी राहुल की मौत की गुत्थी बुरी तरह से उलझी हुई है। दो साल पहले रीतू ने राहुल से प्रेम विवाह किया था। उसका मायका दिल्ली है। राहुल हाल में उसे पहली गांव लेकर आया था और एक महीना पूर्व उसे घर पर अकेला छोड़ कर दिल्ली कमाने चला गया था। बीच के चंद दिनों में ऐसा क्या हो गया कि उसे मौत को गले लगाना पड़ा। रीतू के ससुराली जहां उसकी मौत को स्वाभाविक बता रहे हैं, वहीं गांव के लोग इसके उलट जानकारी दे रहे हैं।

रीतू के ससुराली बताते हैं कि मंगलवार रात रीतू अपने कमारे में सोई थी। देर रात उसके कमरे में कुछ आहट सुनाई दी। परिवार वाले कमरे में पहुंचे तो वह बिस्तर पर बेसुध पड़ी थी। फिर उसे लेकर वह लोग मेडिकल कालेज गये, मगर गेट पर ही उसने दम तोड़ दिया।रीतू के ससुरालियों के इस कथन पर लोगों को कम यकीन आ रहा है। देर रात यदि कमरे में रीतू अकेली अपने बिस्तर पर बेसुध पड़ी थी तो उन्हें कौन सी आहट सुनाई दी थी। जिसे सुन कर रीतू के परिजन वहां पहुंचे। क्या उस कमरे में कोई रीतू की हत्या या चोरी की नीयत से घुसा था? इसकी जांच पुलिस को करनी है।

दूसरी तरफ धनौरावासियों का कहना है कि  वास्तव में रीतू बिस्तर पर नहीं थी। उसकी लाश कमरे में झूल रही थी। इसलिए उसके आत्महत्या की संभावना बनती है। किन उसने आत्महत्या क्यों किया यह यह पूछने पर ग्रामीण बताते है कि यह किसी बाहर के आदमी की अपेक्षा रीतू के ससुराली बेहतर बता सकते हैं। उन्का कहना है कि रीतू की शादी को दो ही साल हुए थे। वह भली चंगी थी, पति पत्नी में प्रेम भी था। फिर क्या कारण है कि पति के बाहर जाने के एक महीने के अंदर ही उसे जान देना पड़ा।

लेकिन गांव वालों के जवाब में राहुल के पिता शेषनाथ व छोटे भाई सुकई कहते हैं कि उन्होंने दूरभाष पर सदर थाने और शोहरतगढ़ हल्का लेखपाल सुरेंद्र यादव को खुद जानकारी दी है। यदि उसने आत्महत्या किया होता तो वह मेडिकल कालेज ले जाने के बजाये पहले ही पलिस को फोन करके बताते। बहरहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। ससुर शेषनाथ ने कहा कि रीतू के पति राहुल और माता-पिता को सूचना दे दी गई है। शोहरतगढ़ थानाध्यक्ष राजकुमार पांडेय ने बताया कि पोस्टमार्टम के रिपोर्ट के आधार कार्रवाई की जाएगी।

याद रहे कि रीतू मूलरुप से दिल्ली की रहने वाली है। वहीं सोशल मीडिया प्लेटफार्म फेसबुक व इंटाग्राम पर उसकी व राहुल के बीच दोस्ती हुई, जो प्रेम में बदल गई। धनौरा मुस्तहकम निवासी शेषनाथ का बेटा राहुल उस समय दिल्ली में निजी कंपनी में काम करता था। दो साल पहले राहुल और रीतू की शादी दिल्ली में ही हुई। इसके बाद राहुल उसे लेकर धनौरा मुस्तहकम गांव आ गया। एक महीने पहले राहुल नौकरी करने मुंबई चला गया। और उसी के बाद यह घटना घट गई।

Leave a Reply