परीक्षा देने जा रहे छा़त्रा व अध्यापक की मार्ग दुर्घटना में मौत, आठ परीक्षार्थी घायल, तीन मौत के कगार पर

February 13, 2018 3:21 pm0 commentsViews: 3527
Share news

नजीर मलिक

डेमो फोटो

सिद्धार्थनगर। सुबह की पाली में बोर्ड परीक्षा देने जा रहे छा़त्र छात्राओं से भरी एक बोलेरो गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हो गई जिसमें जिसमें एक अध्यापक और एक छा़त्रा की मौके पर मौत हो गई तथा आठ घायल हो गये। जिने में तीन की हालत बेहद नाजुक है। दुर्घटना का कारण टायर का फटना बताया जाता है। घटना सुबह पांच बजे  इटवा के करीब संग्रामपुर तकियवा गाव के सामने स्टेट हाइवे पर घटी। सभी लोग रेलवे स्टेशन परसा के अास पास के रहने वाले है।

बताया जाता है कि आज मंगलवार को लगभग साढे चार बजे रेलवे स्टेशन परसा से एक बोलेरो जीप में बैठ कर छात्र छात्रओं का दल जिले के  गिरधरपुर फुनगाई स्थित परीक्षा केन्द्र पर बोर्ड का इम्तहान देने के लिए चला था। उसमें कुल ११ लोग सवार थे। बताते हैं कि लगभग पांच बजे के आस पास इटवा डुमरियांगंज रोड पर ग्राम तकियवा के पास सड़क पर गाड़ी के सामने एक सियार आ गया। उसे बचाने के लिए चालक ने ब्रेक लिया। ब्रेक लेते ही टायर फट गया और बोलेरो पलट कर रगड़ खाते हुई दूर जा गिरी।

गाडी के पलटते ही चीख पुकार मच गई। सामने से कुछ गांव वाले भी पहुंच गये। उन्होंने सभी को  गाड़ी से बाहर निकाला।  इस दौरान घायल प्रधानाचार्य 55 साल के जगदीश त्रिपाठी और हाई स्कूल की छात्रा 17 साल की रीना चौधरी ने दम तोड़ दिया। जगदीश त्रिपाठी ग्रामीण माध्यमिक विद्यालय परसा के प्रधानाचार्य थे जबकि रीना चौधरी बगल के ग्राम लोहटी की रहने वाली थी।

इसके परसा के निकट  झिंगहा गांव का श्यामू ग्राम झिंगहा,  योगेन्द्र, राम नरेश, ग्राम बोहली की मधु विश्वकर्मा व रवीन्द्र, ललिता, सरिता निगम व नीतू चौधरी बुरी तरह से जख्मी हो गये। इनमें लिलिता, नीतू  और सरिता की हालत बेहद खराब बताई जाती है। उन्हें बस्ती और गोरखपुर रेफर कर दिया गया है। सारे घायल परसा स्टेश ने अगल बगल चंपापुर, चनई, बोहली आदि गांवों के है। सभी की उम्र सत्रह अठारह साल के बीच बताई जाती है। समाचार लिखे जाने तक चालक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

(2942)

Leave a Reply


error: Content is protected !!