breaking news- शादी समारोह के दौरान आकाशीय बिजली गिरी, चार की मौत, गांव में मातम

May 9, 2017 11:58 am0 commentsViews: 1338
Share news

नजीर मलिक

पीड़ित परिवार को सांत्वना देते विधायक सतीश द्धिवेदी और लाशों के साथ बिलखते परिजन

पीड़ित परिवार को सांत्वना देते विधायक डा. सतीश द्धिवेदी और लाशों के साथ बिलखते परिजन

 

सिद्धार्थनगर।  शादी के दौरान चल रहे समारोह पर आकाशीय बिजली गिर जाने से चार लोगों की मौत हो गई। दो घरों में शादी का माहौल अचानक मातम में तब्दील हो गया। मृतकों में एक 8 साल का बालक भी शामिल है। प्रकृति का यह गुस्सा बीती रात (सोमवार) साढ़े ग्यारह बजे फटा। घटना त्रिलोकपुर थाने के रोहांव खुर्द गांव की है।

बताया जाता है कि रोहांव गांव में कल दो जगह पर शादी कार्यक्रम था। गांव में भदई के घर बारात आई हुई थी, जबकि कुबेर के घर दूल्हन बिदा होकर आई थी। दोनों ही उत्सवों में सैकड़ों मेहमान जुटे थे। हर ओर हंसी ठहाके का माहौल था। वहां मेहमानों की मस्ती के लिए फिल्म भी दिखाई जा रही थी।

बताया जाता है कि रात साढ़े ग्यारह बजे अचानक बादल छा गये, लेकिन पानी बरसने की उम्मीद नहीं थी। लोग पिक्चर देखने में लीन थे। अचानक जोर की गरज के साथ बादल गरजे और तेज कड़क के साथ चमकती बिजली का कहर भीड़ पर आ गिरा। घटना स्थल पर भगदड़ और चीख पुकार मच गई।

माहौल समान्य होने पर वहां तीन लाशें पड़ी थीं और एक महिला झुलस कर कराह रही थी। मृतकों में 45 साल का राम प्रसाद पुत्र कुबेर और 19 के राम दीन पुत्र भदई शामिल हैं। राम प्रसाद शाम को ही भाई की बारात लेकर घर लौटा था और रामदीन की बहिन की बिदाई आज मंगलवार को थी।

इसके अलावा घटना में आठ साल के विक्रम पुत्र गोमती की भी मौत हुई है। वह पड़ोस के गांव सफियापुर का निवासी था और शादी में शरीक होने अपने ननिहाल आया था। घायल औरत बलरामपुर जिले से रिश्तेदारी में आयी थी। उसे रात में ही उतरौला ले जाया गया, जहां बताते हैं इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

बेटी की डोली के बजाये बेटे की अर्थी उठी

गांव में भदई का आठ सदस्यीय परिवार बहुत सदमें में है। मंगलवार को उसकी 18  साल की बेटी की बिदाई थी, लेकिन कुदरम का करिश्मा देखिए, भदईं की बेटी की डाली तो न उठ सकी, बेटी की अर्थी जरूर उठ गई। दूसरी तरफ कुबेर के  के घर का सबसे बड़े बेअे की मौत से वह परिवार भी टूटा टूटा सा  दिखाई देता है।

 पूर्व प्रमुख घटना स्थल पर डटे रहे

बताया जाता है कि घटना की खबर पाकर पूर्व प्रमुख भनवापुर मार्कन्डेय पांडेय भी पहुंच गये। उन्होंने कुद अन्य चोटिल लोगों की इलाज आदि की व्यवस्था कराई तथा दोनों परिवारों को ढांढस बंधाया। वह अंत तक मौके पर मौजूद रहे। पुलिस भी मौके पर रात ही में पहुंच गई। इस घटना से समूचे गांव में मातम छाया हुआ है।

पीड़ित परिवारों से मिले विधायक

घटना की सूचना पाकर इटवा के विधायक सतीश द्धिवेदी ने आज सुबह रोहांव गांव पहुंच कर पीड़ित परिवारो  मिले तथा उन्हें सरकारी मदद शीघ्र दिलाने का वचन दिया। उन्होंने पड़ितों को सांत्वना भी दिया। इस दौरान विनोद श्रीवास्तव, शत्रुघन पांडेय, बबुन्ने पांडेय, शिवपूजन यादव, बबलू प्रधान पप्पू गुप्ता ने भी शोक संतप्त परिवार को सांत्वना दिलाया।

 

 

(1)

Leave a Reply


error: Content is protected !!