संसद ने कहा सपा विधायक ने की चुनाव में बेइमानी, विधायक ने जवाब दिया हताश हैं भाजपा सांसद

November 5, 2015 8:47 am0 commentsViews: 232
Share news

नजीर मलिक

vijaipaal
जिला पंचायत के वार्ड नम्बर 42 से सदर विधायक विजय पासवान के भाई रामलाल की जीत पर सियासी विवाद खड़ा हो गया है। क्षेत्र के भाजपा सांसद जगदम्बिका पाल ने जहां रामलाल की जीत को सपा की दबंगई और बेइमानी कहा है, वहीं विजेता के भाई और विधायक विजय पासवान ने इसे सांसद की हताशा की संज्ञा दी है।

जगदम्बिका पाल ने बुधवार को यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि नौगढ़ तहसील के वार्ड संख्या 42 से चुनाव लड़ रहे विधायक विजय पासवान के भाई रामलाल पासवान अपनेद प्रतिद्धंदी प्रेमचंद उर्फ भुलई से 187 वोटो से हार गये थे, मगर प्रशासन ने उन्हें 59 वोटो से विजेता घोषित कर दिया।

उन्होंने आरोप लगाया कि भुलई काउटिंग में 187 वोटों से जीत चुका था, लेकिन विधायक पासवान ने मौके पर पहुंच कर सब कुछ उलट पलट कर दिया। उनका कहना था के सपा सरकार ने गुंडागर्दी के बल पर पंचायत चुनाओं में बढ़त बनाया है। सिद्धार्थनगर भी इससे अछूता नहीं हैं।
दूसरी तरफ विधायक पासवान ने इसे भाजपा की हताशा बताया हैं। उन्होंने कहा है कि सिद्धार्थनगर में भाजपा की दुर्गति देख उसके होश उड़ गये हैं। क्षेत्रीय सांसद का आरोप उसी का परिणाम हैं।

उन्होंने कहा कि आज भाजपा के पास जिला पंचायत अघ्यक्ष क़ा चुनाव लड़ने के लिए प्रत्याशी तक नहीं हैं। ऐसे में भाजपा को इज्जत बचाने के लिए एक बहाना चाहिए था। सांसद महोदय उसी बहाने का इस्तामाल कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि जगदम्बिका पाल जी सीनियर नेता हैं, लेकिन उनका आरोप बहुत छोटा है। उन्हें चाहिए कि वह अपने कद के मुताबिक प्रतिक्रिया दें तो वह ज्यादा मान्य होगी।

 

(15)

Leave a Reply


error: Content is protected !!