सर्राफों का दर्दः कल तक सोना बेचने वाले, आज सड़क सब्जी बेचते दिखे

March 12, 2016 12:04 PM0 commentsViews: 179
Share news

संजीव श्रीवास्तव

sabzi

सिद्धार्थनगर। हाल तक जो अपने शानदार भवनों में बैठ कर लाखों करोड़ों के जेवरात बेचते थे, कल उन्हें सड़क पर ठेलों में रखी सब्जी बेचते देखना बहुत अजीब लगा। जी हां,  शहर के ज्वेलर सरकार द्वारा एक्साइज डयूटी की बढ़ी दरों को वापस न लेने से नाराज  होकर  लगभग दस दिनों से काम बंद कर प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी क्रम में शुक्रवार की शाम सिद्धार्थनगर जनपद मुख्यालय के सर्राफा कारोबारियों ने सब्जी बेच कर अपने दर्द का इजहार किया।

कन्हैया वर्मा की अगुवाई शाम लगभग पांच बजे नगर के सभी स्वर्ण व्यवसायी पेट्रोल पंप रोड पर एकत्र हुए। कई ठेलों पर आलू, प्याज, बैगन, लौकी, अदरक, मूली आदि रखकर सर्राफा कारोबारियों ने पूरे नगर की परिक्रमा की। रास्ते में सर्राफा कारोबारियों ने जमकर सरकार विरोधी नारे भी लगाये।

मजे की बात है कि अपने दर्द को आवाज देते हुए इन बड़े व्यापारियों ने हरी सब्जी ले ला। ताजी सब्जी ले लो, जैसे नारे लगा कर लोगों का ध्यान खींचा। कौतूहलवश जिन लोगों ने उनसे इस बारे में सवाल किया, उन्हें केन्द्रसरकार की ज्यादतियों से अवगत कराया।

सिद्धार्थ तिराहे पर जुलूस की अगुवाई कर रहे कन्हैया वर्मा ने कहा कि अगर सरकार एक्साइज डयूटी की बढ़ी दरें वापस नही लेती है, तो वह दिन दूर नहीं, जब स्वर्ण व्यवसायियों को सब्जी का धंधा करना पड़ेगा।

उन्होंने कहा कि सरकार ने एक्साइज डयूटी की दरों में बढ़ोत्तरी कर स्वर्ण कारोबारियों को ललकारा है। स्वर्ण व्यवसायी इसे कत्तई बर्दाश्त नहीं करेंगे। अगर सरकार ने जल्द से जल्द बढ़ोत्तरी को वापस नहीं लिया, तो सर्राफा कारोबारी धंधा बंद कर देंगे।

इस अवसर पर भीमचन्द्र, मुरलीधर अग्रहरी, संजय अग्रहरि, नंदलाल अग्रहरि, संजय गुप्ता, कृष्ण गोपाल वर्मा, प्रदीप वर्मा, चंचल गुप्ता आदि की उपस्थिति रही।

Leave a Reply