दर्दनाक: रिश्तेदार के अंतिम संस्कार में गये नवविवाहित पति-पत्नी हादसे में गवां बैठे जान 

January 16, 2024 1:21 PM0 commentsViews: 485
Share news

— मात्र 21 और 19 साल के थे पति पत्नी, पिछले लगन में हुई थी उनकी शादी

—पिता चन्द्रशेखर ने कहा, बेटे राजकुमार को उन्होंने राजकुमार की ही तरह पाला था

नजीर मलिक

हादसे के बाद बिलखते परिजन और एकत्रित भीड़

सिद्धार्थनगर। बांसी कोतवाली क्षेत्र में एक दर्दनाक सड़क हादसा हुआ है। अपने रिश्तेदार की मौत की खबर सुनकर नवविवाहित जोड़ा उनके घर संवेदना व्यक्त करने गया। मगर कुदरत का कहर देखिए कि वह लौटते वक्त खुद ही सड़क हादसे का शिकार हो गया। हादसे में मरने वाले 21 वर्षीय युवक का नाम राजकुमार है। जबकि 19 वर्षीया पत्नी का नाम शीला है। इनकी असामयिक  मौत से पूरे गांव में मातम छाया हुआ है। वे खेसरहा थाना क्षेत्र के बैकनिहा गांव के निवासी है।

बताया जाता है कि पत्नी शीला की मौसी के गांव सेहरी घाट थाना पथरा मेंकिसी की मौत हो गई थी। इस खबर सुनते ही शीला अपने पति राजकुमार के साथ फौरन बाइक से सेहरी घाट रवाना हो गयी। बताते है कि वहां दिन भर रहने के बाद दोनों पति पत्नी शाम साम बजे आने गांव बकैनिहा के लिए वापस हुए। हालांकि कई लोगों ने रात में सफर के लिए मना किया, मगर उन्होंने घर जाना जरूरी बताया। ग्रामीणों के अनुसार राजकुमार अपनी पत्नी शीला के साथ अभी तेलौरा गांव के पास पहुंचे ही थे कि रास्ते में किसी अज्ञात वाहन ने उनकी बाइक को ठोकर मार दी।भाग कर मौके पर पहुंचे लोग कोहरे के कारण लोग न वाहन पहचान सके न ही नम्बर नोट कर सके और दुर्घटना करने वाला आसानी से फरार हो गया।

तत्काल पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस पति-पत्नी को लेकर तत्काल बांसी अस्पताल ले गयी। जहां मौके पर मौजूद डाक्टर ने दोनों को देखते ही मृत् घोषित कर दिया। इसके बाद पुलिस ने लिख पढ़ी कर दोनों की लाश को कब्जे में लेकर पोस्ट मार्टम के लिए भेज  दिया। दोनों की हाल में शादी हुई थी।

उधर जब दोनों की मौत की खबर बकनिहां पहुंची तो तो परे गांव में कोहराम मच गया। हर तरफ चीख पुकार मच गई। लोग भाग कर अस्पताल और बाद में कोतवाली में पहुंचने लगे।ग्रामीणों के अनुसार राजकुमार गांव के होनहार लोगों में शामिल थे। उसके पिता चन्द्रशेखर ने रोते हुए बताया कि उन्होंने बेटे राजकुमार को वास्तव में राजकुमार की तरह ही पाला था।लेकिन क्या पता था कि ईश्वर इतनी जल्दी उन्हें बुला लेगा।फिलहाल समाचार लिखते तक पूरा बकैनिहा गांव शोक में डूबा हुआ था।

 

 

 

Leave a Reply