सदर विधायक राही और डीएम ने किया बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों का दौरा, फसलों का दिलाएंगे मुआवजा

August 30, 2021 4:40 pm0 commentsViews: 333
Share news

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर। पूरे जनपद में इस समय बाढ़ ने अपना रौद्र रूप ले लिया है। सारी नदियां खतरे के निशान से ऊपर हैं। सदर विधायक भी पूरे दमखम से बाढ़ग्रस्त क्षेत्र का दौरा कर रहे हैं। सबसे अधिक प्रभावित कछार इलाके में राहत सामग्री का वितरण भी किये हैं और अन्य क्षेत्रों प्रशासन के अधिकारियों को साथ लेकर दौर भी कर रहे हैं। विधायक ने कहा है यह आपदा है धैर्य बनाये रखें, सरकार हर सम्भव मदद करने के लिए तैयार है।

प्रलंयकारी भीषण बाढ़ के दृष्टिगत विधायक कपिलवस्तु (सदर)  श्यामधनी राही ने जिलाधिकारी दीपक मीणा एवं उपजिलाधिकारी  विकास कश्यप के साथ तहसील नौगढ़ के अन्तर्गत बाढ़ प्रभावित ग्राम पंचायत धौरीकुईया के समस्त टोलो का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी दीपक मीणा ने संबधित अधिकारीयों को बाढ़ प्रभावित गांवों में बाढ़ से संबधित आवश्यक व्यवस्था कराने का निर्देश दिया गया।

सदर विधायक श्यामधनी रही के निर्देश पर जिलाधिकारी दीपक मीणा ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के ग्रामवासियों को तत्काल राहत सामग्री उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। विधायक श्री रही और जिलाधिकारी दीपक मीणा द्वारा बाढ़ प्रभावित ग्रामवासियों से वार्ता  भी की गयी। दोनों लोगों ने ग्रामवासियों को आश्वस्त दिया कि शासन/प्रशासन द्वारा हर सम्भव राहत सामग्री/सुविधा दी जायेगी।

जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी को निर्देश दिया कि बाढ़ शरणालयों में आवश्यक सामग्री की कमी नही होनी चाहिए। इसके साथ ही संबधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिया गया। जिलाधिकारी द्वारा संबधित लेखपाल को फसलो का सर्वे कर मुआवजा दिलाने का निर्देश दिया गया।

लोटन क्षेत्र में स्थित भयावह

हमारे लोटन प्रतिनिधि सुशील सिंह ने बताया है कि बाढ़ की विभीषिका दोआबा क्षेत्र में ज्यादा ही है। चूंकि यह क्षेत्र कूड़ा नदी और घोंघी नदी के बीच में है। नेपाल का पानी सीधे इसी इलाके से होकर गुजरता है। ग्राम परसौना, बड़हरा, गुलरिहा, बनहा, भेलॉजी, सहिला, उदयपुर, सैनुवा आदि दर्जनों गांव मैरुंड हैं। गांव से बाहर निकलने का कोई रास्ता नही बचा है। क्षेत्र के हजारों बीघा फसल बाढ़ से डूबे हुए हैं। फसल नष्ट होने से ग्रामीण भयभीत हैं। ग्रामीणों ने प्रशासन से फसल के मुआवजे की मांग

(320)

Leave a Reply


error: Content is protected !!