सहारा में निवेशकों के जमा धन को वापस कराने को लेकर कांग्रेस का प्रदर्शन, ज्ञापन

January 8, 2022 12:09 pm0 commentsViews: 115
Share news

बीजेपी सरकार ने रोका है सहारा इंडिया और पर्ल्स कंपनी का पैसा, सेबी गरीबों का पैसा तत्काल वापस कराये– डॉ सरफ़राज़ अंसारी

 

एस. खान

सिद्धार्थनगर। नब्बे के दशक की प्रसिद्ध भारतीय चिट फण्ड कम्पनी सहारा इंडिया और पर्ल्स ग्रुप ऑफ़ कम्पनीज में आम जनता द्रारा अपने सुरक्षित भविष्य के लिए जमा किए गये धन की वापसी की मांग को लेकर कांग्रेस कमेटी ने शोहरतगढ़ तहसील मुख्यालय पर रैली निकाल कर प्रदर्शन किया  और कम्नी से उपभोक्ताओं की जमी रकम फौरन वापस करने की चेतावनी दी। इन कंपनियों में  जनता ने फिक्स्ड और रोज जमा योजना के तहत अपने पैसे जमा किये थे लेकिन करोड़ों निवेशकों का पैसा डूब  जाने की आशंका है सो निवेशकों का पैसा वापस दिलाने को लेकर कांग्रेस पार्टी द्वारा प्रदेश स्तरीय कार्यक्रम चलाया जा रहा है |

इसी क्रम में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को सहारा इंडिया और पर्ल्स ग्रुप पर गरीबों का पैसा हड़पने का आरोप लगाते हुए तहसील मुख्यालय पर प्रदर्शन किया। इस मौके पर वरिष्ठ कांग्रेसी नेता अधिवक्ता अब्दुस्सलाम, संभावित प्रत्याशी शोहरतगढ़ विधान सभा डॉ सरफ़राज़ अंसारी व रंजना मिश्रा ने कहा कि प्रदेश के लाखों गरीबों को सहारा और पर्ल्स ग्रुप जैसी कंपनियों ने लूटा है। छोटे-छोटे दुकानदार, रेहड़ी, ठेला-पटरी चलाने वाले गरीब, मध्यम वर्गीय मजदूर, घरेलू काम करने वाली महिलाओं ने किश्तों में 10 रुपये से लेकर सैकड़ों रुपये तक का आरडी खाता खुलवाया था, साथ ही कई सारे लोगों ने फिक्स डिपॉजिट भी किया। लेकिन मियाद पूरी होने के बावजूद उनका पैसा नहीं मिल पा रहा है। सरकार इस पर चुप्पी साधे हुए है। उन्होंने राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन तहसीलदार धर्मवीर भारती को दिया|

इससे पूर्व कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उपनगर में प्रर्दान किया तथा मौजूदा सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर अपने गुस्से का इजहार किया। इस दौरान दीपक यदुवंशी, धर्मराज सिंह, पूर्व ब्लाक अध्यक्ष भान दत्त शुक्ला, अल्ताफ हुसैन, परवेज अंसारी, अनिल यादव, एजाज़ अंसारी, नफीस चौधरी, बबलू, भोनू, चन्द्र प्रकाश, अब्बास, सिप्पू, फ़खरे आलम, चीनक राम, तीरथ बाबु, जफ़र आलम, फहद अंसारी, मोनू मेडिकल, असलम, सलमान खान, आकाश उपाध्याय, मोहम्मद अली सहित उपस्थित रहे |

 

 

(101)

Leave a Reply


error: Content is protected !!