अभी अभी– मुख्यमंत्री योगी का पुतला फूंकते एक दर्जन कांग्रेसी गिरफ्तार, 5 पर मुकदमा

October 1, 2020 4:35 pm0 commentsViews: 795
Share news

ओजैर खान

बढ़नी, सिद्धार्थनगर। नगर पंचायत बढ़नी के बस स्टाप चौराहे पर यूथ कांग्रेस के वर्करों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पुतला फूंका और हाथरस के गैंगरेप कांड व किसान बिल को लेकर केन्द्र व प्रदेश सरकार की जबरदस्त आलोचना की। शुक्रवार यानी आज हुई जनसभा के ठीक बाद घर जा रहे लगभग एक दर्जन कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इनमें से केवल पांच केखिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है, जिसकी क्षेत्र में बहुत चर्चा है।

बताया जाता है कि  शोहरतगढ़ विधान सभा क्षेत्र अध्यक्ष खालिद खान एव ब्लॉक अध्यक्ष पंडित गोविन्द द्रिवेदी के नेतृत्व में यूथ कांग्रेस के जिला अध्यक्ष सौरभ सिंह की उपस्थिति में दर्जनों कार्यकर्ताओं द्वारा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पुतला दहन किया गया । इस दौरान स्लोगन पर हाथरस, बलरामपुर की ‘बेटियों के बलात्कारी दरिंदो को फांसी दो, फ़ासी दो’, ‘योगी जी इस्तीफा दो इस्तीफा दो’,  ‘हत्या आरोपी बलात्कारियो को फ़ासी दो फ़ासी दो’, ‘जो न्याय न दे सके बिटिया को वो सरकार निकम्मी है’ इत्यादि स्लोगन का प्ले कार्ड लहरा कर विरोध प्रदर्शन किया ।

बाद में जनसभा में जिला अध्यक्ष सौरभ सिंह ने कहा की प्रदेश की कानून व्यवस्था दिन ब दिन मासूम लड़कियो पर हो रहे बलात्कार हत्या लूट  एव डकैती के कारण पूरी तरह ध्वस्त हो चुकमी है। यूथ कांग्रेस ने जनमानस की भावनाओ को ध्यान में रखते हुए सरकार पर सवाल उठाये । उन्होंने कहा की यदि मुख्यमंत्री के अंदर अगर थोड़ी भी नैतिकता है तो वह तुरन्त इस्तीफा दे । 

इस दौरान अतहर हुसैन सोनू त्रिपाठी पंकज चतुर्वेदी अनीस इरशाद, वकील अहमद कुरैशी, फिरोज अरशद, मधुर श्याम, फारुख जियाद आदि लोग उपस्थित रहे ।

सभाविसर्जन के तत्काल बाद जब नेता अपने घरों को वापस लौट रहे थे तो अचानक पुलिस ने आराम से घर जा रहे लगभग एक दर्जन नेताओं को गिरफ्तार कर लिया।यहां सबसे बड़ा सवाल हैकि जब नेता कार्यकर्ता पिछले तीन घंटे से सीएम के पुतला दहन व सरकार विरोधी जनसभा में लगे थे, तब पुलिस तमाशाई थी। मगर जनसभा खतम होने के बाद अचानक क्या बात हुई कि पुलिस ने घर जा रहे लोगों को गिरफ्तार कर लिया। लकिन हैरत हैकि इनमें से केवल पांच केखिलाफ मुकदमा लिखा गया है। ऐसो क्यों, इस विषय पर कयासबाजियां जारी हैं।

(693)

Leave a Reply


error: Content is protected !!