सरकार की किसान व श्रमिक विरोधी नीतियों के खिलाफ सपा का धरना प्रदर्शन

September 26, 2020 1:06 pm0 commentsViews: 139
Share news

— सरकार किसानों, मजदूरों को पूंजीपतियों का गुलाम बनाने पर तुली-लालजी यादव

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर।  सरकार की किसान और मजदूर विरोधी बिल केविरोध में समाजवादी पार्टी की जिला इकाई ने शुक्रवार को कलक्ट्रेट परिसर में जोरदार धरना दिया और प्रदर्शन कर किसानों मजदूरों का प्रतिनिधित्व करते हुए उनकी तरफ से गुस्से का इजहार किया। धरने में इसे काले कानून की संज्ञा देते हुए राज्यपाल को ज्ञापन दिया गया।

प्राप्त विवरण के मुताबिक भारी तादाद में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता लाल टोपी पहने, किसान समर्थक व सरकार विरोधी नारे लगाते हुए जिलाध्यक्ष लालजी यादव के नेतृत्व में कलक्ट्रेट परिसर पहुंचे और वहां काफी देर तक नारेबाजी की। इसके बाद सभी घरने पर बैठ गये जो काफी देर तक चला।

इस अवसर पर लालजी यादव व व कार्यक्रम के आयोजक/ पूर्व विधायक विजय पासवान ने सरकार पर जम कर प्रहार किया तथा आरोप लगाया कि सरकार किसानों को बंधुआ मजदूर और पूंजीपतियों का गुलाम बनाने पर तुली है। दोनों नेताओं ने कहा कि मोदा जी जब मुख्यमंत्री थे, तब प्रधानमंत्री मनमोहन से एमएसपी को कानूनी रूप देने की मांग करते थे, मगर जब वे प्रधानमंत्री हैं तो अपनी ही पुरानी मांग को पूरा नही कर रहे।लिहाजा या समझ लेना चाहिए कि यह सरकार पूरी तरह किसान मजदूर विरोधी है।

 बाद में डीएम के माध्यम से राज्यपाल को दिये ज्ञापन में कहा गया है कि केंद्र और प्रदेश की भाजपा सरकारों की नीतियों से, किसान और श्रमिकों के हितों को गहरा आघात लग रहा है। इन नीतियों से कारपोरेट घरानों को ही फायदा होगा जबकि किसानो व श्रमिकों बदहाली और बढ़ेगी ।

ज्ञापन के अनुसार कृषि और किसान के साथ श्रमिक एक कठिन समय में देश की अर्थव्यवस्था को सम्हालता है। लकिन अब अन्नदाता को ही तरह तरह से उत्पीड़न का शिकार बनाया जा रहा है, यदि समय रहते कृषि और श्रमिक कानूनों को वापस नहीं लिया गया तो प्रदेश में खेती बर्बाद हो जाएगी और श्रमिक बंधुआ मजदूर बनकर रह जाएंगे

   किसानों के संबंध में भाजपा सरकारों का रवैया पूर्णतया अन्यायपूर्ण है। वह खेतो से किसानों का मालिकाना हक छीनना चाहती है। इससे एमएसपी सुनिश्चित करने वाली मंडिया धीरे धीरे ख़त्म हो जाएंगी । किसानों को फसल का लाभप्रद तो दूर निर्धारित उचित दाम भी नहीं मिलेगा।

धरना प्रदर्शन में  रामकुमार उर्फ चिनकू यादव, विरेंदर तिवारी, अनूप यादव, रामू यादव, हरियाणा यादव,  समाजवादी पार्टी यूथ ब्रिगेड के पूर्व प्रदेश सचिव  खुर्शीद अहमद खान, युवजन सभा के पूर्व प्रदेश सचिव फरहान अहमद खान, युवजन सभा के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष कमाल खान, छात्रसभा की पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष विभा शुक्ला, सोनू यादव, विजय यादव, युजजन सभा के जिला अध्यक्ष अम्बिकेश श्रीवास्तव, छात्र संघ अध्यक्ष शशांक त्रिपाठी, शिवांगी पंडित शुभांगी भारत, रमजान अली, उमेश यादव,  बाबूराम यादव आदि ज्ञापन देने में शामिल रहे।

(120)

Leave a Reply


error: Content is protected !!