सरकार की जनविरोधी नीतियों को लेकर सपाइयों का तहसीलों पर जबरदस्त प्रदर्शन

December 10, 2018 4:27 pm0 commentsViews: 336
Share news

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। सरकार की जनविरोधी नीतियों को लेकर सोमवार को समाजवादी पार्टी की तरफ से जिले की हर तहसीलों पर जबरदस्त प्रदर्शन कर प्रशासन का ज्ञापन दिया गया। इस मौके पर सपा नेताओं ने केन्द्र और प्रदेश की सरकारों की जम कर बखिया उधेड़ी। उन्होंने यूपी सरकार को विफल और अन्यायी बताते हुए उसके बरखास्तगी की मांग भी की। जुलूस के दौरान भड़वारंडवा मुर्दाबाद जैसे नारे भी लगाये गये।

 

कहां कहां हुआ प्रदर्शन?

प्राप्त जानकारी के अनुसार आज जिले की सदर तहसील पर पूर्व विधायक विजय पासवान, बांसी में पूर्व विधायक लाल जी यादव, डुमरियागंज में पूर्व प्रत्याशी चिनकू यादव, इटवा में पूर्व विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पांडेय और शोहरतगढ़ में पूर्व प्रत्याशी उग्रसेन सिंह के नेतृत्व में सपाइयों और आम जन का जुलूस निकला। सभी तहीलों के आंदोलनकारी सरकार विरोधी नारे लगाते हुए तहसील मुख्यालय पहूंचे और और संकेतिक धरने के साथ प्रशासन को ज्ञापन सौंपा।

सदर तहसील में विजय पासवान की अगुवाई

सदर तहसील यानी कपिलवस्तु विधानसभा क्षेत्र में सपाई पूर्व विधायक विजय पासवान की अगुआई में निकले। जबरदस्त नारेबाजी के बाद कार्यकर्ताओं व आम जनता को सम्बोधित करते हुए पूर्व विधायक विजय पासवान ने प्रदेश की योगी सरकार को जमूरों की सरकार की संज्ञा दी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी जी विकास के मुद्दों के बजाये हनुमान की जाति में ज्यादा दिलचस्पी रखते हैं। उन्हें किसानों की उपज, चाद बीज के मूल्य आदि से कोई मतलब नहीं। इसलिए इस सरकार को बर्खास्त करना समय की जरूरत बन गई है। उनके साथ पूर्व सांसद अलोक तिवारीसहित सपा नेता जुबैदा चौधरी, चन्द्रजीत यादव, कलाम सिद्दीकी, विजय यादव आदि साथ रहे।

डुमरियागंज में चिनकू यादव ने भरी हुंकार

उधर डुमरियागंज तहसील में सपा प्रत्याशी रहे चिनकू यादव ने जत कर धमाल मचाया।  उनके आवास पर सुबह से ही वर्करों की भीड़ जुटने लगी थी। सुबह 11 बजे से योगी सरकार के नारे के साथ जुलूस सड़कों पर उतरा। लोग भांति भांति के नारों के साथ सरकार की बखिया उधेड़ रहे थे।

जुलूस की रवानगी से पूर्व सपा नेता चिनकू यादव पे कहा कि प्रदेा की कानून व्यवस्था ध्वस्त है। भाजपा के गुंडे अब दिन दहाड़े पुलिस इंस्पेक्टर तक को गोलियों से भून रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी जी तक अफसरों से ठोंक देने का आदेश देखे जा रहे हैं और संघी उस अमानवीय सरकार को रामराज्य घोषित कर रहे हैं। चिंनकू यादव ने कहा कि कि  प्रदेश में सरकार नाम की चीज नहीं है। इस सरकार को भंग कर योगी जी को मंदिर में पूजा पाठ के लिए भेजना ही उचित रहेगा। उन्होंने कहा कि अब भाजपा सरकार कोरसातल भेजना वक्त की जरूरत है। जनता को सोचना होगा।

शोहरतगढ़ में उग्रसेन सिंह गरजे

शोहरतगढ़ में उग्रसेन सिंह की गरज, लोगों का जोश बढ़ाती दिखी। ज्ञापन देने पूर्व उन्होंने वर्करों और किसानों को सम्बोधित करते हुए कहा कि स्व. दिनेश सिंह (उनके पिता) ने शोहरतगढ़ के लिए बहुत कुछ किया, लेकिन पिछले चुनाव में लाग भावना में बह गये।उन्होंने कहा कि  प्रदेश और क्षेत्र को विकास की जरूरत है, लेकिन योगी जी हिंदू हित का नारा दे रहे हैं।
उन्होंने कहा कि  क्या योगी जी प्रदेश में कोई ऐसी सड़क बना बना सकते हैं, जिस पर केवल हिंदू ही चल सके। अगर नहीं तो वो हिंदुओं को बरगलाने का काम बंद करें। प्रदेश साम्प्रदायिकता नहीं समग्र विकास चाहता है और समग्र विकास केवल अखिलेश ही कर सकते हैं। इन पांचों  कार्यक्रमों में अफसर रिज्वी, वीरेन्द्र तिवारी, चन्द्रजीत यादव, अबुल कलाम आजाद, मो.हारून, बरकत अली राइनी, कमरुज्जमा खान आदि की उपस्थिति उल्लेखनीय रही।

 

 

(242)

Leave a Reply


error: Content is protected !!