बेटे समेत सपा नेता व पूर्व प्रमुख को दुष्कर्म के मामले में जेल, युवती से पिता, भाई व बेटे के दुष्कर्म पर यकीन नहीं

December 24, 2023 2:25 PM0 commentsViews: 950
Share news

नजीर मलिक

सपा नेता और विकास खंड खुनिवाय के पूर्व प्रमुख तौलेश्वर निषाद व उनके पुत्र अजय कुमार निषाद को युवती से दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। इस प्रकरण से जिले की राजनीति गर्मा गई है। सपाई इसे राजनीति से प्रेरित कार्रवाई बता रहे हैं। इस प्रकरण में सपा नेता के भाई अभी फरार चल रहे हैं।

क्या है कहानी का तानाबाना

कठेला थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी एक युवती ने गत सप्ताह थाने में तहरीर दिया था कि उसका अपने पति से सम्बंध टूट चुका है। पति से अलग होने के बाद सपा नेता तौलेश्वर निषद के पुत्र अजय कुमार निषाद  ने चार  माह पूर्व उससे शादी का झांसा देकर सम्बंध बनाया इसी के साथ उसका आपत्तिजनक विडियो भी बना लिया। उसके बाद विडियो सार्वजनिक करने की धमकी देकर उसका शरीरिक शोषण करता रहा।

फिर बाप बेटा हुए गिरफ्तार

तहरीर के अनुसार वह गर्भवती हो गई तो गर्भपात कराने के लिए दबाव बनाने लगा। यह देख कर वह नौ दिसम्बर को अजय के घर गई और उसके पिता सपा नेता  तौलेश्वर निषाद को पूरी बात बताई। इसके बाद तौलेश्वर व उनके भाई राधेश्याम निषाद उसे अपनी गाड़ी में बिठा कर बांसी ले गये जहां उसे एक मकान में रख कर उसके साथ दुष्कर्म किया और बेहोशी की हालत में उसे छोड़ कर फरार हो गये। इस घटना के बाद पुलिस ने १८दिसम्बर को अजय कुमार के साथ उसके पिता और सपा नेता तौलेश्वर निषाद व अजय के चाचा राधेश्याम के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उनकी तलाश में जुट गई। अन्ततः शनिवार शाम को गिरफ्तार कर लिया।

एसओ ने क्या बताया

इस बारे में एसओ कठेला कन्हैया लाल मौर्य ने बताया कि शनिवार को सूचना मिली की दोनों बांसी कस्बे में मौजूद हैं और कहीं जाने की फिराक में लगे हैं। सूचना को संज्ञान में लेते हुए पुलिस ने मौक पर पहुंचकर दोनों को पकड़ लिया। पूछताछ करने के बाद उन्हें न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया। जहां से जेल भेज दिया गया है।

क्या उठ रहे सवाल

लेकिन युवती की इस तहरीर की सच्चाई किसी के गले उतर नहीं पा रही है। धोबहा क्षेत्र, जहां के अभियुक्त और युवती रहने वाली है, में यह चर्चा आम है कि अगर युवती यह आरोप लगातीकि उसके साथ किसी एक ने दुष्कर्म किया तो इसे माना भी जा सकता था, लेकिन पुत्र,पिता और चाचा तीनों ने यह दुष्कर्म किया, यह सत्य नहीं लगा है। वह क्षेत्र के एक प्रतिष्ठित परिवार है। वहं पूर्व विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पांडेय का करीबी भी है। क्षेत्र के लोग बताते हैं कि राजनीतिक कारणों से कई बार तौलेश्वर के खिलाफ मुकदमें हुए हैं मगर पिता भाई और पुत्र पर दुष्कर्म का मामला समझ से परे है। सपा जिलाध्यक्ष व पूर्व विधायक लालजी यादव ने इसे राजनतिक साजिश की संज्ञा बताते हुए निष्पक्ष जांच की मांग की है।

 

 

Leave a Reply