जिले में कोरोना एक्टिव की संख्या हजार से ऊपर, संक्रमण पुष्टि के बाद एकांतवास में भेजे गये मरीज

April 22, 2021 11:54 AM0 commentsViews: 604
Share news

नजीर मलिक

कोरोना टेस्ट कराती एक महिला

सिद्धार्थनगर। जिले में कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है।  स्वास्थ्य विभाग द्धारा बुधवार को दी गई रिपोर्ट में 143 नये लोग संक्रमित पाये गए हैं। संक्रमण की पुष्टि के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सभी को आइसोलेट (अलग) कर एकांतवास करा दिया गया है। साथ ही उनके संपर्क में आने वाले अन्य लोगों का सैंपल जांच के लिए भेजा जा रहा है। कोराना के दूसरे चरण में अब तक कुल 6341 संक्रमित हो चुके है। जिनमें अलाज क बाद काफी छीक हुए हैं परन्तु ताजा रिपोर्ट के अनुसार जिले में 1019 लोग अभी पाजिटिव हैं।  इससे डरने के बजाये सावधा जरूरी है। कपिलस्तु पोस्ट की अपील है कि सभी लोग देह से देह की दूरी बनाएं और मास्क पहन कर ही निकले तथा भीड़ से पूरी तौर से बचें।

कोरोना का प्रकोप तेजी से बढ़ रहा है, जिले में संक्रमित मरीजों के मिलने का सिलसिला जारी है। प्रतिदिन 100 से अधिक संक्रमित मिल रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग की ओर से बुधवार को जारी किए गए आकड़ों के मुताबिक नौगढ़ ब्लॉक क्षेत्र में 44 कोरोना संक्रमित मिले। इसी प्रकार शोहरतगढ़ ब्लॉक क्षेत्र में 15 संक्रमित, बढऩी ब्लॉक क्षेत्र में 12 संक्रमित, खुनियांव ब्लॉक क्षेत्र में 11 संक्रमित और जोगिया ब्लॉक क्षेत्र में 10 संक्रमित पाए गए।

इसी प्रकार उसका  ब्लाक क्षेत्र में 13 संक्रमित पाये गये। इसके अलावा मिठवल ब्लॉक क्षेत्र में 8 संक्रमित, बांसी ब्लॉक क्षेत्र में 6 संक्रमित,  बर्डपुर क्षेत्र में 7 संक्रमित, डुमरियागंज ब्लॉक क्षेत्र में 6 संक्रमित, भनवापुर ब्लॉक क्षेत्र में 2 और इटवा में 3 संक्रमित  लोटन ब्लॉक क्षेत्र में 3 संक्रमित पाये गये हैं। इसके अलावा 3 अन्य संक्रमित पाए गए। संक्रमण की पुष्टि के बाद सभी आइसोलेट कर एकांत में  रखा गया है, ताकि वे किसी दूसरे के सम्पर्क में न आ सकें।  सीएमओ डॉ. इंद्र विजय विश्वकर्मा ने बताया कि 143 संक्रमित हैं, उन्हें आइसोलेट कर दिया गया। साथ ही संपर्क में आने वाले अन्य लोगों का सैंपल जांच के लिए भेज दिया गया।

 बता दें कि इन नये केसों के साथ जिले में कोरोना के कुल एक्टिव केस की तादाद 1019 हो गई है। गौर तलब हैं कि कोरोना की दूसरी लहर में जिले में अब तक कुल 5341 लोग संक्रमित हो चुक हैं। इलाज क बाद इसमें 80 प्रतिशत ठीक हो चुके हैं मगर 1019 अभी भी पोजिटिव है।

Leave a Reply