घटना के 48 घंटे बाद भी नहीं हो सका शहर में सनसनीखेज ढंग से हुई लूट का खुलासा

April 12, 2023 1:45 PM0 commentsViews: 150
Share news

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर। शहर के बीचो बीच लूट की सनसनीखेज घटना के  48 घंटे बाद भी उसका खुलासा न होना सिद्धार्थनगर पुलिस के लिए चुनौती बनती बन चुकी है। इस घटना में व्यापारी पर हमला कर लुटेरे उसके बैग में रखा सोने से भरा बैग लूट कर भाग निकले थे। आज से पांच साल पहले भी उसके भाई के साथ ठीक इसी प्रकार की घटना घटी थी, जिसका भी खुलासा न हो सका था।  हालांकि पुलिस का कहना है कि इस बार वह शीघ्र ही घटना का खुलासा कर देगी और लुटेरे जल्द पकड़े जाएंगे।

बता दें कि शहर के अनूप नगर मोहल्ले में किराये पर कमरा लेकर रहने वाले लखनऊ के चौक इलाके के सर्राफा कारोबारी पर हनी रस्तोगी पर सोमवार रात लगभग १२ बजे बदमाशों ने हमला कर दिया, जब वह ट्रेन से लखनऊ जाने के लिए घर से बाहर निकले थे।  इस वारदात में बदमाश व्यापारी का बैग छीनकर फरार हो गए, जिसमें लगभग १५ लाख का सोना होना बताया जा रहा है। घटना की जानकारी होते ही पुलिस रात में ही मौके पर पहुंची और छानबीन में जुटी। लेकिन हकोई सुराग न लग सका।

लखनऊ के चौक निवासी हनी रस्तोगी सिद्धार्थनगर जिला मुख्यालय के अनूपनगर में किराए के मकान में सर्राफा का कारोबार करते थे। सोमवार रात 12 बजे लखनऊ जाने के लिए मैलानी ट्रेन पकडऩे के लिए वह रेलवे स्टेशन से निकले थे।  था। वह स्कूटी पर बैठे ही थे कि तभी चेहरे पर गमछा बांधकर आए बदमाशों ने हमला बोल दिया। बदमाशों ने उसके पेट में दो बार चाकू मारकर सोने से भरा  बैग छीन लिया और फरार हो गए।

हमला होने की जानकारी किसी ने पुलिस को दी तो सूचना मिलते ही सीओ अखिलेश कुमार वर्मा, कोतवाल सतीश कुमार सिंह सहित पूरी फोर्स मौके पर पहुंच गई। घायल कारोबारी को जिला अस्पताल ले गए। खुद रेफर बनवाकर लखनऊ इलाज कराने के लिए चला गया। वहीं मामले की छानबीन के लिए सदर कोतवाली पुलिस के साथ ही, एसओजी सहित अन्य टीमें लगी हुई है। फिलहाल अभी तक पुलिस को कोई ऐसा क्लू नहीं मिला है, जिससे कि वह हमला करने वाले बदमाशों तक पहुंच सके। इस संबंध में सीओ सदर अखिलेश कुमार वर्मा ने बताया कि मामले की छानबीन में पुलिस की कई टीमें लगी हैं। जल्द ही घटना का अनावरण किया जाएगा।

पांच वर्ष पहले भाई पर हमला कर हुई थी लूट की कोशिश

याद रहे कि पांच वर्ष पहले हनी के छोटे भाई प्रिंस रस्तोगी पर भी हमला हुआ था। हालांकि इसमें लूट की कोशिश नाकाम रही। इसी तरह से चेहरे पर गमछा बांधकर आए बदमाश ने नगर में ही बर्डपुर मार्ग पर सोने से भरे बैग को छीनने के लिए हमला बोल दिया। चार वार उसके गर्दन के पास किया था। लेकिन प्रिंस के बैग फेंक देने के कारण बदमाश से छोड़कर फरार हो गये थे।  लेकिन उस मामले का  भी पुलिस पर्दाफाश नहीं कर पाई थी। हमले के बाद प्रिंस ने यहां पर आना बहुत कम कर दिया था।

घर के पास से तीन तरफ निकला है रास्ता

अनूप नगर में जिस स्थान पर हनी रहता है, बहुत ही घनी आबादी है। यहां पर तीन तरफ रास्ता निकली उत्तर दिशा में 20 मीटर पर मार्ग पर है, जहां से किसी तरफ हमलावार जा सकते हैं। इसी प्रकार एक दक्षिण तरह है, जो लगभग 50 मीटर आगे जाकर मुख्य मार्ग पर मिलता है। घर से पूरब की गली मुख्य सड़क से 25 मीटर है। ऐसे में वारदात करने के बाद बदमाश कहीं भी निकल सकते हैं। शहर में रात 12 बजे तक लोग चलते हैं। ऐसे में भीड़ में बदमाश कौन है, इसकी पहचान थोड़ी चुनौती पूर्ण है।

तगड़ी मुखबिरी पर हुई वारदात

जिसे पर प्रकार से बदमाशों ने लूट की वारदात को अंजाम दिया है, उससे यह स्पष्ट है कि मुखबिरी सटीक हुई थी। क्योंकि टे्रन से लखनऊ जाने और घर से निकलने की जानकारी किसी करीबी को ही हो सकती है। चाहे वह साथ में काम करने वाला हो या फिर अन्य किसी माध्यम से जुड़ा हो। इसमें जो दृष्य सामने आया है, उससे स्पष्ट था कि पूरी जानकारी होने के बाद बदमाश पहले से बैठे थे। घर से निकलते ही हमला करके लूट और चले गए।

आज भी नहीं भूले हैं वह रात

नगर के सब्जी मंडी में सर्राफा की दुकान चलाने वाले संतोष पर वर्ष 2015में हमला करके 2.60 लाख रुपये की लूट हुई थी। संतोष के मुताबिक वह दुकान से नगर में स्थित अपने घर के लिए निकले थे। अभी रेलवे क्रासिंग के पास पहुंचे थे कि बाइक से आए दो बदमाशों में नाम पूछकर गोली चला दी। गोली सीने के पास लगने से वह जमीन पर गिर गए और बदमाश झट से रुपये से भरा बैग लिए और फरार हो गए। किसी तरह से जान बची थी। लेकिन वह रात आज भी हमें भूला नहीं हैं। हमेशा आंखों के सामने दृष्य नजर आ जाता है। पुलिस ने खुलासा तो किया, लेकिन न्याय नहीं मिला। रुपये बहुत कम दिखाए गए है। कहीं न कहीं लापरवाही की गई। पुलिस प्रशासन कारोबारियों की सुरक्षा को लेकर गंभीर नहीं है। जब वारदात होता है, तभी प्रशासन जागता है, उसके बाद कार्रवाई और संवेदना सब खत्म हो जाता है।

 

Leave a Reply