फर्जी फोटो के माध्यम से शोहरतगढ़ में तनाव भड़काने की कोशिश करने वाले खुले आम घूम रहे

August 20, 2020 1:37 pm0 commentsViews: 649
Share news

— संवेदनशील टाउन शोहरतगढ़ में फिर सक्रिय हुईं साम्प्रदायिक ताकतें, पुलिस बनी तमाशाई

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। एक मुस्लिम लड़के की फोटो के साथ फोटोशाप के जरिए आपत्तिजनक शब्द जोड़ कर शोहरतगढ़ टाउन में साम्प्रदायिक तनाव बढ़ाने की कोशिश हालांकि नाकाम हो गई है। मगर सच का खुलासा सामने आ जाने के बाद भी पुलिस दोषियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही है। जबकि इससे पूर्व वह उसी फोटोशाप में दिखने वाले निर्दोष लड़के को सूचना मिलते ही 18 घंटे हिरासत में रख पुलिस आश्चर्यजनक तेजी दिखा चुकी है। शोहरतगढ़ पुलिस के इस दोहरे मापदंड को लेकर जनता में तरह तरह की चर्चाएं हैं।

क्या है पूरा मामला

बताया जाता है कि शोहरतगढ़ कस्बे के शिवपति महाविद्यालय के छात्र नेता मोहम्मद शहजाद सिद्दीकी की फेसबुक फोटो से छेड़छाड़ करने व आपत्तिजनक पोस्ट वायरल किये जाने का मामला स्पष्ट हो चुका है। यह घिनावनी हरकत करने वाले चेहरों की पहचान भी हो चुकी है। मामला साफ है कि शोहरतगढ़ में साम्प्रदायिकता बढ़ाने वाले एक खास गिरोह के युवकों ने इस काम को अंजाम दिया है। पहले उन्होंने शहजाद की फोटो से छेड़छाड़ कर उसे पाकिस्तान पस्त बनाया और फिर खुद ही पुलिस को सूचना देकर उसे हिरासत में भिजवाया।

रहस्मय है पुलिस की चुप्पी

यह चौदह अगस्त की घटना है। लगता है कि असामाजिक तत्व 15 अगस्त को कस्बे का सदभाव बिगाड़ने की फिराक में थे। बकौल शहजाद यह तो उसकी किस्मत थी कि अनेक अकाट्य तर्कों ने साबित किया कि वह निरपराध है। यही नहीं, जरा से प्रयास से इस पूरे घटनाक्रम और साजिश का सच सामने आ गया और साफ पता चल गया कि यह साम्प्रदायिक तत्वों की नापाक कोशिश थी। इसके बाद शहजाद ने तहरीर देकर पुलिस से साजिशकर्ताओं के खिलाफ मुकदमा कायम कर गिरफ्तार करने की मांग की। पुलिस भी जानती है कि शोहरतगढ़ साम्प्रदायिकता की दृष्टि से बेहद संवेदन शील कस्बा है, बावजूद वह पूरे प्रकरण पर रहस्मय चुप्पी साधे हुए है।

क्या बोले शहजाद

इस बारे में शहजाद का कहना है कि उसकी खिलाफ बनाई गई फोटो वायरल हो चुकी है। उसे बहुत से लोग पहचान चुके हैं। माब लिचिंग के इस दौर को देख कर वह भयभीत है। कहीं आ जा भी नहीं सकता है। एक तरफ उसकी जान पर बनी हुई है तो दूसरी तरफ अपराधी खुले आम घूम रहे हैं। फोटो से छेड़छाड़ करने व मानहानि को ठेस पहुंचाने के प्रकरण में छात्र नेता मोहम्मद शहजाद सिद्दीकी ने पुलिस अधीक्षक, जिलाधिकारी, डीआईजी व पुलिस महानिरीक्षक लखनऊ को पत्र भेजकर निष्पक्ष जांच करके दोषियों के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की है।

शोहरतगढ़ का है साम्प्रदायिक झड़पों का इतिहास

बता दें कि शोहरतगढ़ टाउन में साम्प्रदायिक झड़पों का इतिहास रहा है। वहां छोटी छोटी बातो पर टाउन का माहौल बिगड़ जाता है और तोड़ फोड़ आगजनी की घटनाएं होने लगतीं हैं। अनेक बार ऐसी ही घटनाओं की अनदेखी करने पर शहर में तनाव बढ़ चुका है। अभी इससे पूर्व ऐसे ही एक प्रकरण में पुलिस ने समाज विरोधी तत्वों की जबरदस्त पिटाई की थी, जिसमें एक बड़े नेता परिवार की भी पुलिस द्धारा जबरदस्त तरीके से पीटा गया था, जिससे कस्बे में कुछ दिनों तक शांति रही थी, परन्तु इधर ऐसे तत्वों की सक्रियता फिर बढ़ गई है। इससे पूर्व लिहाजा पुलिस को ऐसी घटनाओं की अनदेखी भारी पड़ सकती है।

अनदेखी पड़ सकती है भारी

बता दें कि शोहरतगढ़ टाउन में साम्प्रदायिक झड़पों का इतिहास रहा है। वहां छोटी छोटी बातो पर टाउन का माहौल बिगड़ जाता है और तोड़ फोड़ आगजनी की घटनाएं होने लगतीं हैं। अनेक बार ऐसी ही घटनाओं की अनदेखी करने पर शहर में तनाव बढ़ चुका है। अभी इससे पूर्व ऐसे ही एक प्रकरण में पुलिस ने समाज विरोधी तत्वों की जबरदस्त पिटाई की थी, जिसमें एक बड़े नेता परिवार की भी पुलिस द्धारा जबरदस्त तरीके से पीटा गया था, जिससे कस्बे में कुछ दिनों तक शांति रही थी, परन्तु इधर ऐसे तत्वों की सक्रियता फिर बढ़ गई है। इससे पूर्व लिहाजा पुलिस को ऐसी घटनाओं की अनदेखी भारी पड़ सकती है।

(611)

Leave a Reply


error: Content is protected !!