तीन जिलों के बदमाशों से मिल कर बनाई थी ज्वैलर की तिजोरी लूटने की योजना

January 13, 2024 12:59 PM0 commentsViews: 750
Share news

पकड़े गये बदमाश गोरखपुर, गोंडा और महाराजगंज जनपदों के हैं रहने वाले, वे दुकान की ५ दिन से कर रहे थे रेकी, तिजोरी खुलने पर 9 किलो चाांदी व  4 थान सोना सुरक्षित मिला

नजीर मलिक

शोहरतगढ़ थाना क्षेत्र के महला चौराहे पर आभूषण की दुकान से लॉकर उठाकर ले जाने वाले बदमाश तीन अलग अलग जिलों के थे। इन सबों ने मिल कर तिजोरी हथियाने की योजना बनाई थी। घटना को अंजाम देने से पहले  दुकान की पांच दिन तक रेकी भी गई थी। इसके बाद ही वह स्कार्पियों लेकर धावा बोलने आये थे।। इसका खुलासा  मुठभेड़ के दौरान पकड़े गये बदमाशों ने किया है।गिरफ्तार बदमाशों के नाम राम रक्षा यादव निवासी लाभपुर बरगदवा थाना चिलुवाताल जनपद गोरखपुर, सलमान निवासी गांव और थाना कोल्हुई जनपद महाराजगंज और उल्फत अली निवासी जामदार थाना कोतवाली देहात जनपद गोंडा के रूप में हुई है। उल्फत अली को मुठभेड़ में गोली लगी है।

  तिजोरी को गा़ड़ी में डाल कर ले गये थे बदमाश

बदमाशों के बताने के अनुसार वे लगातर पांच दिन बाइक से आकर दुकान की रेकी करते रहे। इसके बाद इसके बाद  बुधवार रात वह लग्जरी गाड़ी से पहुंचे और शटर का ताला तोड़ कर उसमें से तिजोरी निकाल कर स्कार्पियों पर लाद कर चलते बने। उस समय ज्वैलर  संजय वर्मा नहीं था। वह चौराहे के करीब अपने गांव में था।  घटना के बाद गुरुवार की सुबह शोहरतगढ़ पुलिस द्धारा आसपास के जनपदों को मैसेज करके पूरी जानकारी दे दी गई थी। पुलिस अलर्ट मोड में थी, मगर बदमाश भी कम चालाक न थे। उन्होंने पूरा दिन घूम कर गुजारा और रात होने पर महाराजगंज जनपद की ओर चल पड़े। पकड़ा गया एक बदमाश सिद्धार्थनगर की सीमा से सटे महाराजगंज जिले के कोल्हुई का रहने वाला था। संभवतः बदमाश वहीं जा रहे थे।

बदमशों के साथ चल रहा था उनका दुर्भाग्य

मगर दुर्भाग्य भी उनके साथ चल रहा था।  उसी का नतीजा रहा कि वह सब रात 12 बजे जनपद की सीमा क्रॉस करके कोल्हुई के निकट पहुंचे ही थे कि, तभी सोन पिपरी गांव के पास चेकिंग के दौरान पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की। इस दौरान बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी, जवाबी पुलिस की फायरिंग में एक बदमाश को गोली लगी। जबकि दो अन्य पकड़े गए। शेष फरार हो गये। पकड़े गए बदमाशों में  रक्षा यादव निवासी लाभपुर बरगदवा थाना चिलुवाताल जनपद गोरखपुर, सलमान निवासी गांव और थाना कोल्हुई जनपद महाराजगंज और उल्फत अली निवासी जामदार थाना कोतवाली देहात जनपद गोंडा के रूप में हुई है। उल्फत अली को मुठभेड़ में गोली लगी ह बदमाशों ने बताया  कि तिजोरी में काफी गहने की जानकारी के कारण तीनों जिलों के बदमाशों ने संयुक्त टीम बनाया था। ज्वैलर संजय वर्मा के अनुसार तिजोरी में 9 किलो चांदी और 4 थान सोने के जेवर सुरक्षित पाये गये हैं।

तिलोरी में सभी माल सुरक्षित मिला

बताते चलें कि शोहरतगढ़ थाना क्षेत्र के महला गांव निवासी संजय वर्मा महला चौराहे पर आभूषण की दुकान चलते थे। बुधवार रात बदमाशों ने शटर का ताला तोड़कर लॉकर उठा ले गए थे। जिसमें 9 किलो चांदी और सोने के चार नग आभूषण थे। मामले की जानकारी मिलने के बाद सुबह पुलिस टीम ने छानबीन की। पुलिस की तीन टीम गठित की गई, जो हर पहलुओं की जांच कर रही थी।

इस संबंध में अपर पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ का कहना है कि  कि शोहरतगढ़ थाना क्षेत्र में हुई चोरी की घटना में पुलिस की तीन टीम में गठित की गई थी, उनके हर मूवमेंट की जांच कर रही थी चोरी करने वाले गिरोह के लोग महाराजगंज जनपद के कोल्हुई हुई थाना क्षेत्र में मुठभेड़ में पकड़े गए हैं। यहां से पुलिस गई थी। पूछताछ हुई है तिजोरी बरामद हुई है। सभी सामान सुरक्षित पाए गए।

पुलिस अधीक्षक ने कहा —

इस बारे में पुलिस अधीक्षक प्राची सिंह ने बताया कि पुलिस अलर्ट थी इसलिए शोहरतगढ़ में चोरी करने वाले चोर पकड़ गए हैं। चोरी की घटनाओं को रोकने के लिए पुलिस गश्त कर रही है। इसके पहले बरेली गैंग के चोरों को भी पकड़ा गया था। लोगों को चाहिए कि संदिग्ध लोगों पर नजर रखें और आवश्यकता पड़ने पर पुलिस को सूचना दें।
-प्राची सिंह, पुलिस अधीक्षक

 

Leave a Reply