सिद्धार्थनगर को मिली दूसरी हमसफर, अब दिल्ली के लिए रोजाना मिलेगी ट्रेन, पाल ने दिखाई हरी झंडी

April 11, 2018 3:27 pm0 commentsViews: 2311
Share news

— खलीलाबाद-बांसी-बलरामपुर रेलमार्ग के निर्माण की प्रक्रिया जल्द शुरू होने की उम्मीद- सांसद जगदम्बिका पाल

अजीत सिंह

हमसफर 15705 ट्रेन को हरी झंडी दिखाते सांसद जगदम्बिका पाल

सिद्धार्थनगर। दिल्ली जाने के लिए जिलेवासियों को एक और हमसफर 15705 up ट्रेन  मिल गई है। जिसे आज सुबह 5.40 बजे स्थानीय सांसद पाल ने हरी झंडी दिखा कर सिद्धार्थनगर से दिल्ली के लिए रवाना किया। अब जिलेवासियों को दिल्ली जाने के लिए सप्ताह में 6 दिन आने जाने की सुविधा मिल गई है।यह ट्रेन बिहार के कटिहार से चलेगी। जो सिद्धार्थनगर बलरामपुर गोंडा होते हुए दिल्ली पहुंचेगी।

नई हमसफर ट्रेन को झंडी दिखा कर रवाना करने के बाद सांसद ने पत्रकारों को बताया कि यह ट्रेन सप्ताह में दो दिन जायेगी। पुरानी हमसफर सप्ताह में केवल रविवार को चलती थी। उसे अब चार दिन कर दिया गया है। इस प्रकार अब यहां से लोगों को यहां से दिल्ली जाने के लिए सप्ताह में 6 दिन की सुविधा मिल गई है। उन्होंने बताया कि इसके बाद अब दिल्ली जाने के लिए नान एसी ट्रेन की मंजूरी भी जल्द ही कराने की व्यवस्था करेंगे।

श्री पाल ने बताया कि आने वाले ६ महीनों मे वह सिद्धार्थनगर से देश के अन्य हिस्सों में जाने वाली कई ट्रेनों को मंजूरी दिला देंगे। इस प्रकार सिद्धार्थनगरवासी रेल आवागमन की भरपूर सुविधा पा सकेंगे। उन्होंने बताया कि बढ़नी में वाशिग पिट का काम पूरा होते ही यहां रेल सुविधा शिखर पर पहुंच जायेगी। फिर रेल सफर के लिए स्थानीय जनता को गोरखपुर, बस्ती और गोंडा तक भटकना नहीं पड़ेगा। बांसी- बलरामपुर-खलीलाबाद रेलमार्ग का निर्माण भी जल्द ही प्रारम्भ कराने की दिशा में प्रयास हो रहा है।

हमसफर 15705 को झंडी दिखाते समय नौगढ़ स्टेशन पर बड़ी गहमा गहमी रही। लोगों ने सांसद पाल को जबरदस्त तरीके से बधाई और धन्यवाद ज्ञापित किया। इस अवसर पर वहां इस मौके पर लॉफ्टर क्लब के  अध्यक्ष राहुल श्रीवास्तव व क्लब के सभी सदस्यों के अलावा वरिष्ठ अधिवक्ता अखण्ड प्रताप सिंह, सभासद फतेह बहादुर सिंह, भाजपा पूर्व जिलाध्यक्ष लाल बाबा त्रिपाठी, भाजपा के महामंत्री दिलीप चतुर्वेदी, जहीर सिद्दीकी, नन्हे सिंह, रिंकू पाल, ओमकार पांडे, श्याम सुंदर मित्तल सहित सैकड़ों लोग उपस्थित रहे।

(2112)

Leave a Reply


error: Content is protected !!