VIDEO: बीएसए अजय सिंह ने विकलांग महिला को गाली देने के बाद कुर्सी से धकेल दिया, समाजवाद के नाम पर जंगलराज?

March 21, 2016 6:52 pm0 commentsViews: 2347
Share news

नजीर मलिक

बीएसए के खिलाफ तहरीर देने थाने पर संघठन के लोगो के साथ खडी विकलांग प्रेरक शशि

बीएसए के खिलाफ तहरीर देने थाने पर संघठन के लोगो के साथ खडी विकलांग प्रेरक शशि

सिद्धार्थनगर। ख़ुद को सत्ताधारी समाजवादी पार्टी के मंत्री का करीबी बताकर जूनियरों और छोटे नेताओं-पत्रकारों को अपमानित करनेे के लिए बदनाम बेसिक शिक्षा अधिकारी अजय सिंह ने अब एक विकलांग प्रेरक शशि देवी से बदसुलूकी की है। दोनों पैरों से मजबूर शशि देवी को अजय सिंह ने गाली दी, हाथ उठाया और कुर्सी से धकेल दिया। शशि किसी तरह खुद को बचा पाईं। इसके बाद नाराज़ प्रेरक अजय सिंह के ख़िलाफ़ मुकदमा लिखवाने थाने पहुंचे लेकिन पुलिस अफसर उनसे भी बड़े घाघ हैं। शिक्षा विभाग हो या फिर कोई पुलिस स्टेशन, हर जगह कानून की जगह अखिलेश राज की हनक दिखाई दे रही है। 

https://youtu.be/0iXdmSlc8j8

प्रेरक संघ अपनी समस्याओं को लेकर विकास भवन की बैठक में अफसरों से मुलाकात करने गया था। वहां डीएम तो नहीं मिले, लेकिन मीटिंग में बीएसए अजय सिंह मौजूद थे। बातचीत के दौरान विकलांग प्रेरक शशि देवी ने कुछ लाजिकल सवाल उठाये।

शशि देवी के मुताबिक, इसपर बीएसए भड़क गए। उन्होंने मुझे गालियां दीं, थप्पड़ मारा और हाथ पकड़ कर  धक्का दिया। इस घटना से नाराज प्रेरकों ने जिलाधिकारी की गैरमौजूदगी में थाने को घेर लिया लेकिन अधिकारी का मामला होने के नाते पुलिस एफआईआर दर्ज नहीं कर रही है।

गाली गलौज के बदनाम हैं बीएसए

बेसिक शिक्षा अधिकारी अजय सिंह अपने जूनियरों से गाली गलौज के लिए बदनाम हैं। उनकी हरकतें जिले के शिक्षा जगत में गुस्से का सबब बन रही हैं। इसके चलते 15 दिन पहले सदर विधायक ने खुला बयान देकर उनको सजा दिलाने की बात कही थी। इसके लिए वह सीएम अखिलेश यादव से भी मिले थे। इसके बाद शिक्षको ने भी उनके खिलाफ प्रर्दशन किया था।

बीएसए कहते है, सपा नेता का रिश्तेदार हूं।

अपने अधीनस्थाें ही नहीं, बाहरी लोगाें से भी बदसलूकी करते वक्त भी बीएसए यही धमकी देते हैं कि, “जानते नहीं, मैं सपा नेता भगवती सिंह और भदौरिया का रिश्तेदार हूं” उनकी इस धमकी से बड़े-बड़े डरे रहते हैं।

डीएम  और विधायक भी परेशान हैं

बीएसए अजय सिंह से जिले के डीएम डा。सुरेन्द्र कुमार और सपा के सदर विधायक विजय पासवान परेशान हैं। सदर विधायक ने उन्हें सजा दिलाने का एलान कर रखा है, लेकिन वह कुछ नहीं कर पा रहें हैं। दूसरी तरफ जिला अधिकारी डा. सुरेन्द्र कुमार भी उनके खिलाफ तमाम लिखा पढ़ी करने के बावजूद कुछ कर पाने में असहाय हैं।

मुख्यमंत्री जी आप कुछ करिए न ?

बीएसए की हरकताें से सिर्फ सपा ही नहीं बल्कि विरोधी दलो के नेता भी तंग हैं। सबका का कहना है कि एेसे बेलगाम अफसर पर अब सिर्फ मुख्यमंत्री ही लगाम लगा सकते हैं। बसपा नेता सुरेन्द्र मौर्या कहते हैं कि अखिलेश सरकार के ऐसे बेलगाम अफसर ही समाजवादी पार्टी की शिकस्त और बसपा की जीत का रास्ता साफ करने के लिए काफी हैं।

(56)

Tags:

Leave a Reply


error: Content is protected !!