नोटबंदी से बहन बेटियों की बारातें लौट रहीं और मोदी जी को इसकी फिक्र नहीं– उग्रसेन सिंह

December 11, 2016 2:27 PM0 commentsViews: 255
Share news

ओजैर खान⁄ इजाम अंसारी

ugrasen

बढ़नी, सिद्धार्थनगर। अखिलेश यादव ने एम्बुलेन्स सेवा, समाजवादी पेंशन ,मनरेगा मजदूरों को साईकिल वितरण, किसान बीमा योजना राहत राशि एक लाख से बढ़ाकर पांच लाख करने, छात्रों को लैपटाप वितरण और छात्राओं को कन्याविद्या धन देने जैसे तमाम ऐतिहासिक कार्य किए हैं।सपा सरकार का विकास कार्य अभी भी जारी है।

उक्त बातें समाजवादी पार्टी के राज्य कार्यकारिणी के सदस्य उग्रसेन प्रताप सिंह ने व्यक्त किया।वह तुलसियापुर चौराहा के शुक्लागंज बाजार के प्रांगण में समाजवादी पार्टी की कार्यकर्ता बैठक व जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मोदी जी नेता कम तानाशाह ज्यादा हैं।उनका एक भी निर्णय देशहित में न होकर देश के लिए नुकसानदायक ही है।

उन्होंने कहा कि आज तक मोदी जी ने जितना विदेश दौरा किया उतना विदेश दौरा कुल प्रधानमंत्रियों ने मिलाकर नहीं किया।मोदी जी देश को किश दिशा में ले जाने का प्रयास कर रहे हैं। नोटबंदी के कारण हो रही लोगों को समस्याओं के संदर्भ  में उन्होंने कहा कि नोटबंदी के कारण बहन-बेटियों की बारात लौट जा रही है। लाइनों में एक भी अमीर आदमी नहीं लगता केवल गरीब आदमी रात से ही लाइन में लग जाता है। जितना भी कालाधन पकड़ा जा रहा है वो भाजपा के ही नेता के पास क्यों पकड़ा जा रहा है।

सभा को वीरेन्द्र तिवारी, प्रदीप पथरकट, निसार बागी आदि ने सम्बोधित किया। इस मौके पर बढ़नी प्रधान संघ अध्यक्ष कमर आलम, अबू बकर, हसमुल्लाह, दिनेश यादव, विनय शुक्ल, सपा नेता मो.सफात, मकबूल अहमद, रामू यादव, बदरे आलम, विजय प्रकाश पाण्डेय, शैलेन्द्र पाण्डेय, अतीकुर्रहमान, रामदीन शर्मा, चिनगी नेता, राम सुमिरन गुप्ता, रमजान अली, त्रिभुवन यादव, रामरुप तिवारी, घनश्याम पाण्डेय, मो.सफीक, संकेश चौरसिया, खलील, रामनाथ यादव, पीताम्बर यादव आदि लोग मौजूद थे।

Leave a Reply